उपराज्यपाल ने जम्मू कश्मीर में इंटरनेट सेवा बहाल करने के दिए संकेत

यह पहली बार है कि जब जम्मू-कश्मीर सरकार ने 5 अगस्त को बंद की गई इंटरनेट सेवाओं को बहाल करने पर चुप्पी तोड़ी है. मुर्मू ने उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले में पुलिस पासिंग आउट परेड के मौके पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि घाटी में स्थिति बहुत अच्छी है. इसमें बहुत सुधार हुआ है.

उपराज्यपाल ने जम्मू कश्मीर में इंटरनेट सेवा बहाल करने के दिए संकेत

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मु ने कहा कि स्थिति में और सुधार आने के साथ ही इंटरनेट सेवाओं को चरणबद्ध तरीके से बहाल किया जाएगा. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद स्थिति में कुल मिलाकर काफी हद तक सुधार हुआ है. साथ ही उन्होने 5 अगस्त के बाद पैदा हुई कानून व्यवस्था की स्थिति से निपटने में जम्मू कश्मीर पुलिस द्वारा निभाई गई सेवाओं की सरहाना भी की.

यह पहली बार है कि जब जम्मू-कश्मीर सरकार ने 5 अगस्त को बंद की गई इंटरनेट सेवाओं को बहाल करने पर चुप्पी तोड़ी है. मुर्मू ने उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले में पुलिस पासिंग आउट परेड के मौके पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि घाटी में स्थिति बहुत अच्छी है. इसमें बहुत सुधार हुआ है.

मुर्मू ने कहा, 'हम स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं. हम चरणबद्ध तरीके से इंटरनेट सेवाओं को बहाल करेंगे. हमने प्रशासन के साथ इस विषय पर चर्चा भी की है.'

उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मु ने बुधवार को उत्तरी कश्मीर के शीरी बारामुला के पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में पुलिस जवानों के पासिंग आउट परेड के दौरान जहां जम्मू कश्मीर पुलीस के काम की सरहाना की वहीं, मुर्मु ने कहा कि घाटी की स्थिति में बहुत सुधार हुआ है, क्योंकि पुलिस अपनी सेवाओं का जोरदार प्रदर्शन कर रही है. 

उन्होंने कहा कि सभी सुरक्षा एजंसियों के बीच उच्च-स्तरीय तालमेल से स्थिति में सुधार हुआ है. यह भी कहा कि हालातों को सुधारने में लोगों की भागीदारी बहुत अच्छी है और लोग अब बाहर आ रहे हैं और वे विकास चाहते हैं.

ये भी देखें-: