यूपी हज समिति के दफ्तर से रातों रात उतरा भगवा रंग, दीवारों की पीले रंग से कराई गई पुताई

 उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित राज्य हज समिति के कार्यालय पर भगवा रंग चढ़ाने पर उठे विवाद के बाद पूरे भवन की दोबारा से पुताई कराई गई है.

यूपी हज समिति के दफ्तर से रातों रात उतरा भगवा रंग, दीवारों की पीले रंग से कराई गई पुताई
उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित हज समिति के दफ्तर का रंग एक दिन पहले भगवा था, विवाद के बाद दूसरे दिन उसर पीला रंग चढ़ा दिया गया.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित राज्य हज समिति के कार्यालय पर भगवा रंग चढ़ाने पर उठे विवाद के बाद पूरे भवन की दोबारा से पुताई कराई गई है. इस बार हज समिति के कार्यालय की दीवारों पर पीला रंग चढ़ाया गया है. हज समिति के सचिव आरपी सिंह ने कहा कि ठेकेदार ने गलती से दीवारों की पुताई भगवा रंग से करा दी थी, गलती को अब सुधार लिया गया है. भगवा रंग को लेकर उठे विवाद के बाद योगी आदित्यनाथ की सरकार का बचाव करते हुए हज राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने कहा था कि ऐसे मामलों को तूल देने की कोई जरूरत नहीं है. केसरिया रंग ऊर्जा का प्रतीक है. अब भवन अच्छा दिख रहा है. विपक्ष के पास कोई बड़ा मुद्दा नहीं है, लिहाजा वह ऐसे मुद्दों को उछाल रहा है.

यूपी: अब हज हाउस का रंग भी हुआ 'भगवा', मंत्री मोहसिन रजा बोले- ऊर्जा का प्रतीक है रंग
यूपी हज कमेटी के दफ्तर का रंग हुआ भगवा, मंत्री बोले-ऊर्जा का प्रतीक है यह रंग (फोटोः एएनआई)

विपक्ष ने किया था भारी विरोध
हज समिति के कार्यालय का रंग भगवा किए जाने के बाद विपक्षी दलों और मुस्लिम संगठनों ने शुक्रवार को विरोध किया था. विपक्षी सपा के प्रवक्ता और विधान परिषद सदस्य सुनील सिंह साजन ने कहा कि सरकार अपनी नाकामी को छुपाने के लिए अब रंगों का खेल खेल रही है. अभी तक तो आश्रम ही भगवा रंग में होते थे, अब ये लोग ऑफिसों की बिल्डिंग को भी नहीं छोड़ रहे हैं. उन्होंने कहा, "अधिकारी भी योगी की चापलूसी में लगे हैं. उन्हें शायद यह नहीं पता कि रंगा सियार ज्यादा दिन नहीं छुप पाता है."

ये भी पढ़ें: अब हज हाउस का रंग भी हुआ 'भगवा', मंत्री मोहसिन रजा बोले- ऊर्जा का प्रतीक है रंग

विपक्ष का आरोप, कुर्सी बचाने के लिए मोहसिन रजा ने लिया यह फैसला
साजन ने कहा कि अधिकारी ही नहीं, मंत्री भी सिर्फ चापलूसी कर रहे हैं. अपनी कुर्सी बचाने की खातिर इस तरह की बात कर रहे हैं. मोहसिन रजा की कुर्सी उनकी हरकतों के कारण अक्सर ही खतरे में रहती है. वह सोचते हैं, सिर्फ उनकी कुर्सी किसी तरह बची रहे.

यह भी पढ़ेंः योगी इफेक्ट : यूपी में फैशन बना भगवा पहनावा

मोहसिन रजा ने भगवा रंग को बताया ऊर्जा का प्रतीक
सरकार का बचाव करते हुए हज राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने कहा था कि ऐसे मामलों को तूल देने की कोई जरूरत नहीं है. केसरिया रंग ऊर्जा का प्रतीक है. अब भवन अच्छा दिख रहा है. विपक्ष के पास कोई बड़ा मुद्दा नहीं है, लिहाजा वह ऐसे मुद्दों को उछाल रहा है. उन्होंने कहा, "अगर विपक्ष के पास मुद्दा नहीं है, तो सरकार के पास ही कौन सा मुद्दा है? प्रदेश का क्या विकास हो रहा है?"

आपको बता दें कि इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने सीएम ऑफिस एनेक्सी पर भगवा रंग पुतवाया था. इसके अलावा मुख्यमंत्री कार्यालय में रखे गये तौलिये भगवा रंग के हैं. साथ ही वहां लगे पर्दे भी हल्के केसरिया रंग के हैं.

Haj
विपक्ष के विरोध के बाद यूपी स्थित हज समिति के दफ्तर की पुताई पीले रंग से कराई गई है. 

यह भी पढ़ेंः अब मुख्यमंत्री योगी का कार्यालय भी भगवाधारी

हाल में मुख्यमंत्री ने भगवा रंग से रंगी 50 बसों के एक बेड़े को हरी झंडी दिखायी थी. यहां तक कि इस मौके के लिये सजाये गये मंच पर भी केसरिया पर्दें और गुब्बारे लगाये गये थे. इसके अलावा राज्य के प्राथमिक स्कूलों में विद्यार्थियों को केसरिया रंग के बैग दिये गये थे. साथ ही सरकार के 100 दिन तथा छह माह पूरे होने पर प्रकाशित पुस्तिकाएं भी भगवा रंग की थीं.