जमीनी विवाद को लेकर एक परिवार में खूनी संघर्ष, 3 लोगों को उतारा मौत के घाट, 4 की हालत गंभीर

 आज सुबह परसराम और उसका बेटा ब्रिजसेन धारदार हथियार फरसा और हाथों में मिर्च पाउडर लेकर पीड़ित के घर जा पहुंचे

जमीनी विवाद को लेकर एक परिवार में खूनी संघर्ष, 3 लोगों को उतारा मौत के घाट, 4 की हालत गंभीर

महासमुंदः छत्तीसगढ़ के महासमुंद में जमीनी विवाद को लेकर एक ही परिवार में हुए खूनी संघर्ष में तीन लोगों की हत्या का मामला सामने आया है. घटना तुमगा क्षेत्र के जोबा गांव की है, जहां परिवार का एक पक्ष जमीन के बंटवारे से खुश नहीं था. जिसके बाद सुबह होते ही उन्होंने परिवार के दूसरे पक्ष पर हमला कर दिया. जिसमें एक महिला और उसके दो बच्चों की मौत गई. जबकि महिला की सांस, पति और दो बच्चे गंभीर रुप से घायल है. पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.  

आरोपी पिता-पुत्र को पुलिस ने किया गिरफ्तार 
एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि मृतक और हत्यारें दोनों एक ही परिवार से है. दोनों पक्षों के बीच जमीन को लेकर विवाद चल रहा था, कुछ दिनों पहले ही जमीन का बंटवारा किया गया. जिससे परिवार का एक पक्ष खुश नहीं था. जिसके बाद राम गायकवाड़ और उसका बेटा ब्रिज सेन धारदार हथियार और हाथों में मिर्च पाउडर लेकर दूसरे पक्ष के घर जा पहुंचा. दोनों ही आरोपियों ने घर में मौजूद लोगों के आंखों में मिर्च पावडर डालकर हथियार से हमला शुरू कर दिया. जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने घटना के आरोप में राम गायकवाड़ और उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया है.

रमन सिंह का CM बघेल पर शायराना तंज, बोले- ''तुम हो कुछ और नजर कुछ और आते हो''...

एक आरोपी पहले ही काट चुका है जेल
जानकारी के मुताबिक आरोपी राम गायकवाड़ इससे पहले भी हत्या के आरोप में जेल जा चुका है. गांव वालों ने बताया वो तीन महीने पहले ही जेल से रिहा होकर अपने घर लौटा था. और इस बार उसने अपने बेटे के साथ मिलकर परिवार के तीन लोगों की हत्या को अंजाम दिया. गांव के माहौल को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया है. हत्या की घटना के बाद तुमगांव पुलिस दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ धारा 459, 302, 307, 34 के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है.

WATCH LIVE TV: