महासमुंद: 50 चिकित्सकों ने किया ओपीडी का बहिष्कार, हड़ताल से मरीज परेशान

महासमुंद में डॉक्टर एसोसिएशन ( सीडा ) के बैनर तले 50 चिकित्सकों ने ओपीडी का बहिष्कार किया. 

महासमुंद: 50 चिकित्सकों ने किया ओपीडी का बहिष्कार, हड़ताल से मरीज परेशान
हड़ताल से मरीज परेशान

जन्‍मजय सिंहा/महासमुंद: छत्तीसगढ़ के महासमुंद में डॉक्टर एसोसिएशन ( सीडा ) के बैनर तले 50 चिकित्सकों ने ओपीडी का बहिष्कार किया. दस सूत्रीय मांगों को लेकर डॉक्टरों ने काम करने से इंकार कर दिया. जिले में संचालित 5 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ( तुमगांव , बागबाहरा , पिथौरा ,बसना ,सरायपाली ) और एक जिला चिकित्सालय में मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. दूर-दूर से आए मरीज रोजाना अस्पताल के चक्कर लगाने को मजबूर हैं.

चिकित्सकों की शासन से मांग
चिकित्सकों की मांग है कि डबल शिफ्ट ओपीडी का निरस्तीकरण किया जाए, अधिकतम ड्यूटी सीमा का निर्धारण हो, अवकाश की पात्रता हो,  24*7 संपूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता हो, मरीजों की संख्यानुसार स्टाफ की नियुक्ति हो, चिकित्सा अधिकारियों के 794 पदों को शीघ्र भरा जाए.

चिकित्सकों ने शासन को दी चेतावनी
इसी के साथ स्नातकोत्तर प्रवेश परीक्षा में चिकित्सा अधिकारियों के लिए 50 प्रतिशत सीटों को आरक्षित किया जाए. चिकित्सकों ने अपनी इन्हीं मांगों को लेकर शासन को अल्टीमेटम भी दिया है. चिकित्सकों ने कहा कि अगर हमारी मांगे नहीं मानी गई, तो इमरजेंसी सहित सभी सेवाएं बंद कर दी जाएंगी.

आपको बता दें कि महासमुंद जिले के जिला अस्पताल में रोज 350 सौ मरीज ओपीडी में आते हैं. डाक्टरों के द्वारा ओपीडी का बहिष्कार कर देने से मरीजों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. वहीं इस पूरे मामले में कलेक्टर का कहना है कि ये शासन स्तर का मामला है फिर भी बातचीत करके कोई न कोई रास्ता निकाला जायेगा.