मध्य प्रदेश में उफनते नाले के बीच फंसी 70 जिंदगियां, मजदूरोंं ने इस तरह बचाया

फैक्ट्री प्रबंधन ने भी पुलिस को सूचना दे दी. साढ़े 4 घंटे की मशक्कत के बाद रात साढ़े 9 बजे सभी 70 लोगों को उफनाते नाले से बाहर निकाल लिया गया.

मध्य प्रदेश में उफनते नाले के बीच फंसी 70 जिंदगियां, मजदूरोंं ने इस तरह बचाया
करीब 6 घंटों तक फंसे रहे लोग

संजय लोहानी/नई दिल्लीः मध्य प्रदेश कई इलाकों में पिछले दो-तीन दिनों से हो रही बारिश ने तबाही मचा रखी है. ऐसे में मैहर में अंतिम संस्कार में शामिल होने गए 70 लोग उफनते नाले के बीच फंस गए. पानी का बहाव तेज होने के कारण सभी लोग बहाव कम होने का इंतजार करने लगे, लेकिन पानी था कि कम लेने का नाम नहीं ले रहा था. ऐसे में सभी लोग 6 घंटे तक एक टीले में बैठे रहे. ऐसे में घंटों बाद मौके पर पहुंचे प्रशासन ने उन्हें रेस्क्यू किया और सभी 70 लोग सुरक्षित निकाले गए. जानकारी मिलने के बाद पुलिस और मैहर सीमेंट के वर्करों ने रस्सियों की मदद से सभी 70 लोगों को बाहर निकाला.

MP: नदी के तेज बहाव में बहा युवक पेड़ पर चढ़ा, रेस्क्यू ऑपरेशन कर बचाई जान

अंतिम संस्कार के लिए एकत्रित हुए थे लोग
मिली जानकारी के मुताबिक मैहर सीमेंट में कार्यरत सुभाष राय की गंभीर बीमारी के चलते मृत्यु हो गई. ऐसे में फैक्ट्री में कार्यरत भारतीय मजदूर संघ के करीब 70 वर्कर दोपहर साढ़े 3 बजे के लगभग दो किलोमीटर दूर बाजी नाला के उस पार उनके अंतिम संस्कार के लिए एकत्रित हुए. वर्करों ने जिस वक्त नाला पार किया उस समय नाले में पानी कम था मगर थोड़ी देर में नाला में पानी बेहिसाब आ गया. ऐसे में अंतिम संस्कार कर सभी वर्कर्स जैसे ही वापस जाने के लिए निकले, नाले की दूसरी ओर ही फंसे रह गए. 70 lives hanged between the floating nallah, saved after hours

MP: मैहर के शारदा माता मंदिर परिक्षेत्र में लगी भीषण आग, 4 वाहन जलकर खाक

6 घंटे बाद बचाए गए सभी लोग
पानी कम होने की उम्मीद में सभी 70 वर्कर्स नजदीक बने टीले के ऊपर चढ़ गए. वर्कर्स ने भारतीय मजदूर संघ के विभाग प्रमुख राजपाल शर्मा को मोबाइल पर अपने बाढ़ के बीच फंसे होने की जानकारी दी. जिसके बाद विभाग प्रमुख शर्मा ने कलेक्टर मुकेश शुक्ला को इस बात की जानकारी दी और सभी कर्मचारियों का रेस्क्यू करने की गुहार लगाई. जिसके बाद कलेक्टर ने इस संबंध में एसडीएम जीपी अग्रवाल को रेस्क्यू करने के निर्देश दिए. इधर, फैक्ट्री प्रबंधन ने भी पुलिस को सूचना दे दी. साढ़े 4 घंटे की मशक्कत के बाद रात साढ़े 9 बजे सभी 70 लोगों को उफनाते नाले से बाहर निकाल लिया गया.