• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

होशंगाबादः 30 गांवों में फैली गेहूं के नरवाई में लगाई गई आग से 1155 हेक्टेयर फसल प्रभावित

 शुक्रवार रात करीब 7.30 बजे तेज हवाओं के चलते गेहूं की नरवाई में लगाई गई आग देखते-देखते होशंगाबाद से सटे 30 गांवों के खेतों में फैल गई और इसने भयावह रूप ले लिया.

होशंगाबादः 30 गांवों में फैली गेहूं के नरवाई में लगाई गई आग से 1155 हेक्टेयर फसल प्रभावित
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

होशंगाबादः गेहूं की नरवाई (ठूंठ) में लगाई गई आग शुक्रवार रात तेज हवाओं के चलते अचानक होशंगाबाद शहर से सटे 30 गांवों के खेतों में फैल गई जिससे तकरीबन 1155 हेक्टेयर की फसल प्रभावित हुई है. वहीं आग के चलते तीन व्यक्तियों की मौत हो गई और 25 अन्य झुलस गये. इनमें से एक की हालत गंभीर बनी हुई है. होशंगाबाद कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी आशीष सिंह पवार ने शनिवार को बताया कि शुक्रवार रात करीब 7.30 बजे तेज हवाओं के चलते गेहूं की नरवाई में लगाई गई आग देखते-देखते होशंगाबाद से सटे 30 गांवों के खेतों में फैल गई और इसने भयावह रूप ले लिया.

चंडीगढ़ से डिब्रूगढ़ जा रही ट्रेन में लगी आग, यात्रियों में मची अफरा-तफरी

उन्होंने कहा कि इस आग की चपेट में आने से तीन व्यक्तियों दिलीप चोरे (28), अमित चोरे (32) एवं श्याम चोरे की मौत हो गई. ये तीनों पांजराकलां के निवासी थे. दो शव कल देर रात ही मिल गये थे जबकि एक शव आज सुबह मिला. पवार ने बताया कि इस आग से इलाके के 25 लोग झुलसे गए हैं जिनमें से एक व्यक्ति को गंभीर हालत में भोपाल रेफर किया गया है. उन्होंने कहा कि इस आग से कई एकड़ गेहूं की फसल जलकर राख हो गई है.

ZEE Jankari: दि‍ल्‍ली के होटल में हुए इस अग्निकांड का जिम्मेदार कौन?

पवार ने बताया कि शुक्रवार रात से ही आग से झुलसे लोगों का होशंगाबाद जिला अस्पताल में पहुंचना शुरू हो गया था जो शनिवार सुबह तक जारी रहा. उन्होंने कहा कि होशंगाबाद के अलावा आसपास के इलाके सीहोर, औबेदुल्ल्लागंज एवं मंडीदीप से दमकल की गाड़ियां बुलाई गई. करीब दो दर्जन दमकल गाड़ियों ने इस आग पर आज सुबह काबू पाया. (इनपुटः भाषा)