PM मोदी की चेतावनी का असर, रायपुर में नर्स को बेघर करने वाले मकान मालिक पर एक्शन

समाज में कुछ ऐसे लोग हैं जो 'कोरोना वॉरियर्स' से बदसलूकी या फिर उन्हें परेशान कर रहे हैं. जिससे दिन-रात कार्यरत लोगों का मनोबल कमजोर होता है, साथ ही आपदा प्रबंधन कार्य में बाधा उत्पन्न होती है.  

PM मोदी की चेतावनी का असर, रायपुर में नर्स को बेघर करने वाले मकान मालिक पर एक्शन
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में PM मोदी की चेतावनी के बाद पहली कार्रवाई हुई है..(फाइल फोटो)

रायपुर: 'कोरोना वॉरियर्स' यानि वो लोग जो तेजी से फैल रही महामारी के बीच भी अपनी जिम्मेदारियों को पूरी निष्ठा से निभा रहे हैं. जिसमें डॉक्टर्स/नर्स, पुलिसकर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, पर्यावरण मित्र और मीडिया कर्मी प्रमुख रूप से शामिल हैं. जिनकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी तारिफ कर चुके हैं. लेकिन फिर भी समाज में कुछ ऐसे लोग हैं जो 'कोरोना वॉरियर्स' से बदसलूकी या फिर उन्हें परेशान कर रहे हैं. जिससे दिन-रात कार्यरत लोगों का मनोबल कमजोर होता है, साथ ही आपदा प्रबंधन कार्य में बाधा उत्पन्न होती है.

ऐसे में छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में PM मोदी की चेतावनी के बाद पहली कार्रवाई हुई है. यहां नर्स को बेघर करने वाले मकान मालिक पर गाज गिरी है. जानकारी के मुताबिक सामाजिक कार्यकर्ताओं के हस्तक्षेप के बाद पुलिस से मकान मालिक की शिकायत की गई थी. लेकिन फिर भी मकान मालिक ने आज नर्स को घर से बाहर कर दिया.

अतिरिक्त कलेक्टर ने दिए सख्त कार्रवाई के निर्देश
सामाजिक कार्यकर्ता ममता शर्मा, उचित शर्मा और अजय त्रिपाठी ने शिकायत की थी कि रायपुर का रहने वाला पंकज चंद्राकर किराएदार नर्स पर घर छोड़ने का दबाव बना रहा है. जिसके बाद अतिरिक्त कलेक्टर ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. जिसके बाद अब पंकज शर्मा पर आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 की धारा 51 और आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी. साथ ही आरोपी पंकज चंद्राकर की ओर से संचालित चॉइस सेंटर को भी तत्काल प्रभाव से निरस्त करने के निर्देश हुए हैं.

ये भी पढ़ें: राजनांदगांव में मिला Covid-19 पॉजिटिव, इंग्लैंड से आकर घूम रहा था दोस्तों के साथ

LIVE देखें मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ की खबरें: