अमेरिका की गोरी को भाया छत्तीसगढ़ी छोरा, शादी के लिए हिंदुस्तान खींच लाई फेसबुक की दोस्ती

रेने ने बताया कि हर रिवाज काफी उत्सुकता भरा था. हल्दी के बाद मेहंदी और फिर कन्या का हाथ वर के हाथ में देने की परंपरा ने उन्हें काफी रोमांचित किया.   

अमेरिका की गोरी को भाया छत्तीसगढ़ी छोरा, शादी के लिए हिंदुस्तान खींच लाई फेसबुक की दोस्ती

कोरबा: कहते हैं कि जब प्यार परवान चढ़ता है तो सरहदें कोई मायने नहीं रखती. ऐसा ही मामला कोरबा जिले से सामने आया है. जहां फेसबुक पर हुई दोस्ती अमेरिकी युवती को शादी के लिए हिंदुस्तान खींच लाई.

दरअसल, अमेरिका की रेने पाटिन की दोस्ती तकरीबन आठ साल पहले कोरबा जिले के सोहम से हुई थी. इन सालों में दोस्ती का रिश्ता प्यार में बदला और दोनों ने वैलेंटाइन वीक में शादी रचा ली.

बालको में कार्यरत शारदा विहार निवासी सोहम सरकार और रेने पाटिन की लव स्टोरी बेहद दिलचस्प है. दोनों की शादी में सोहम के एक दोस्त ने बेहद अहम भूमिका निभाई. दरअसल, सोहम का दोस्त अमेरिका में रेने का पड़ोस था. उसी की वजह से दोनों की दोस्ती हुई. दोनों के बीच लंबे वक्त तक सोशल मीडिया पर चैटिंग हुई. आठ साल तक एक-दूसरे को समझने और जानने के बाद दोनों ने एक होने का फैसला किया. रेने ने बताया कि इस रिश्ते के बारे में जब उन्होंने अपने माता-पिता को बताया तो वो भी खुशी-खुशी राजी हो गए. वीडियो कॉल के जरिए दोनों परिवार एक दूसरे से रूबरू भी हुए.

शादी के लिए रेने खुद अमेरिका से कोरबा पहुंची. आर्य मंदिर में वैदिक रीति-रिवाजों को साक्षी मानकर रेने और सोहम एक दूजे के हो गए. रेने ने बताया कि हर रिवाज काफी उत्सुकता भरा था. हल्दी के बाद मेहंदी और फिर कन्या का हाथ वर के हाथ में देने की परंपरा ने उन्हें काफी रोमांचित किया.