CM शिवराज सिंह के गृह जिले में अन्नदाताओं की अनदेखी, गुस्साए किसानों ने लगाया चक्का जाम

जिला मुख्यालय साईलो में बनाए गए समर्थन मूल्य खरीदी केन्द्र पर आ रही परेशानियों को लेकर गुस्साए किसानों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए चक्का जाम कर दिया. किसान उपज का तौल व बिल नहीं बनने से परेशान हो रहे हैं. किसानों का आरोप है कि एसएमएस भेजने के बाद भी खरीदी नहीं की जा रही है. 

CM शिवराज सिंह के गृह जिले में अन्नदाताओं की अनदेखी, गुस्साए किसानों ने लगाया चक्का जाम
किसानों ने किया चक्का जाम

सीहोरमध्य प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी का काम लंबे समय से जारी है. अंतिम तारीख नजदीक आते ही बड़ी संख्या में किसान उपज लेकर उपार्जन केंद्र पहुंच रहे हैं. इन सबके बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर में किसानों के साथ अनदेखी की खबर सामने आई है. 

जिला मुख्यालय साईलो में बनाए गए समर्थन मूल्य खरीदी केन्द्र पर आ रही परेशानियों को लेकर गुस्साए किसानों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए चक्का जाम कर दिया. 

किसान उपज का तौल व बिल नहीं बनने से परेशान हो रहे हैं. किसानों का आरोप है कि एसएमएस भेजने के बाद भी खरीदी नहीं की जा रही है. 

ये भी पढ़ें-फसल खरीदी के लिए उपार्जन केंद्र आए किसान परेशान, किया चक्का जाम

किसानों की मानें तो खरीदी केन्द्रों पर तुलाई का कार्य बहुत ही धीमी गति से किया जा रहा है. साथ ही उन्हें अन्य परेशानियों का भी सामना करना पड़ रहा है. किसानों का कहना है कि घंटो फसल खरीदी के लिए लाइन में लगने के बाद भी हमारी गेहूं की तुलाई नहीं हो रही है. जिला प्रशासन भी इसे लेकर लापरवाह रवैया दिखा रहा है.

किसानों का कहना है कि खरीदी केन्द्र में किसानों के लिए ना ही पानी की व्यवस्था है और ना ही भोजन की व्यवस्था की गई है. खरीदी केन्द्र के कार्यकर्ता अपनी मनमानी कर रहे हैं. 

किसानों ने कहा कि लॉकडाउन के चलते पहले ही हम लोग आर्थिक संकट झेल रहे हैं और यहां भी चार दिन से चक्कर लगाने के बाद भी उनकी फसल खरीदी नहीं हो पा रही है. 

Watch LIVE TV-