close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हनी ट्रैप में फंसकर पाकिस्तान को सूचना भेज रहा था फौज का क्लर्क, गिरफ्तार

प्रदेश पुलिस के एक आला अधिकारी ने आरोपी की पहचान का खुलासा किये बगैर बताया कि गिरफ्तार सैन्य कर्मी के बारे में सुराग मिले हैं कि वह फेसबुक, वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम जैसे माध्यमों के जरिये एक महिला को कथित तौर पर सामरिक महत्व की गोपनीय सूचनाएं लम्बे समय से भेज रहा था.

हनी ट्रैप में फंसकर पाकिस्तान को सूचना भेज रहा था फौज का क्लर्क, गिरफ्तार
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंदौर: सोशल मीडिया पर हुस्न के जाल में फंसकर सामरिक महत्व की गोपनीय सूचनाएं साझा करने के आरोप में फौज के 28 वर्षीय क्लर्क को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया. यह सैन्य कर्मी मध्यप्रदेश के इंदौर जिले स्थित महू छावनी में पदस्थ है. प्रदेश पुलिस के एक आला अधिकारी ने आरोपी की पहचान का खुलासा किये बगैर बताया कि गिरफ्तार सैन्य कर्मी के बारे में सुराग मिले हैं कि वह फेसबुक, वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम जैसे माध्यमों के जरिये एक महिला को कथित तौर पर सामरिक महत्व की गोपनीय सूचनाएं लम्बे समय से भेज रहा था.

उन्होंने बताया कि भारतीय खुफिया एजेंसियों को संदेह है कि ये सूचनाएं पाकिस्तान तक पहुँच रही थीं और इन्हें हासिल करने के बदले धन भी दिया गया था. गिरफ्तार सैन्य कर्मी के सोशल मीडिया खातों की जांच की जा रही है. अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भोपाल के एक पुलिस थाने में सम्बद्ध कानूनी प्रावधानों के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है. विस्तृत जांच जारी है.