पूर्व CM ने दिग्विजय सिंह को दी भोपाल से चुनाव लड़ने की चुनौती, बोले- 'आओ दो-दो हाथ हो जाए'

'दिग्विजय भोपाल से चुनाव लड़कर दिखाएं, मालूम पड़ जाएगा. भोपाल में उनका जीतना नाक से लोहे के चने चबाने जैसा है. आ जाएं भोपाल और हो जाए दो-दो हाथ.'

पूर्व CM ने दिग्विजय सिंह को दी भोपाल से चुनाव लड़ने की चुनौती, बोले- 'आओ दो-दो हाथ हो जाए'
दिग्विजय सिंह के लिए भोपाल से चुनाव जीतना नाक से लोहे के चने चबाने जैसा है- बाबूलाल गौर

भोपालः बीजेपी के कद्दावर नेता बाबूलाल गौर ने कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह को भोपाल से चुनाव लड़ने की चेतावनी दी है. गौर ने कांग्रेस महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को चुनौती देते हुए कहा कि 'दिग्विजय भोपाल से चुनाव लड़कर दिखाएं, मालूम पड़ जाएगा. भोपाल में उनका जीतना नाक से लोहे के चने चबाने जैसा है. आ जाएं भोपाल और हो जाए दो-दो हाथ.' बता दें गौर की चुनौती को उनकी भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा के रूप में भी देखा जा रहा है.

मध्य प्रदेश: कांग्रेस ने बाबूलाल गौर को दिया लोकसभा चुनाव लड़ने का ऑफर, मिला ये जवाब

गौर इससे पहले भी भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि 'मुझे खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मंच पर बधाई देकर कहा था कि एक बार और बाबूलाल गौर, तो मुझे पूरा भरोसा है कि पार्टी मुझे मौका देगी. लगातार 10 बार विधानसभा में रहा अब दिल्ली देखने की इच्छा.'

BJP की कार्यशैली पर सवाल उठाने के बाद बाबूलाल गौर ने लिया यू-टर्न, बोले- 'हम सब एक परिवार'

इससे पहले पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता भी पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के लोकसभा चुनाव जीतने पर टिप्पणी कर चुके हैं. जिसमें उन्होंने कहा था कि 'दिग्विजय सिंह के लिए मध्य प्रदेश मुफीद नहीं है. वह प्रदेश की सरल से सरल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे तो भी उनका हारना तय है. उन्हें तो हमारा कार्यकर्ता ही कम से कम 1 लाख वोटों के अंतर से हरा देगा.' दरअसल, दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि 'धन्यवाद कमल नाथ जी को जिन्होंने मध्य प्रदेश में कांग्रेस की कमजोर सीटों पर लड़ने का आमंत्रण दिया. उन्होंने मुझे इस लायक समझा मैं उनका आभारी हूं.'

Come and contest Lok Sabha Elections from Bhopal

बाबूलाल गौर बोले- जिसने BJP को जीरो से हीरो बनाया उन्हें ही दरकिनार किया जा रहा है

दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर पूर्व भाजपा मंत्री ने कहा कि 'मध्य प्रदेश में सत्ता का संघर्ष चल रहा है. अकेले दिग्विजय के नहीं कांग्रेस में सबके नेता सिर्फ राहुल गांधी ही हैं और कोई इनके पास बड़ा नेता नहीं है. यह कांग्रेस के बिखराव विभाजन के साफ संकेत हैं.' वहीं वर्तमान सांसद आलोक संजर ने कहा कि 'कांग्रेस कभी करीना को चुनाव लड़ाने की बात कहती है तो कभी दिग्विजय सिंह को. मालूम पड़ता है कि कांग्रेस कमजोर होती जा रही है और भोपाल में तो कांग्रेस इतनी कमजोर हो गई है कि बाहर से प्रत्याशी लाने पड़ रहे हैं. दिग्विजय सिंह चुनाव लड़कर देख लें, कांग्रेस को मुंह की खानी पड़ेगी.'