बलौदाबाज़ार के SP को 'पुलिसवाला ऑस्कर'

 बलौदाबाज़ार के एसपी शेख़ आरिफ़ हुसैन को पुलिस का ऑस्कर कहे जाने वाले IACP यानि इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ चीफ़ ऑफ पुलिस अवॉर्ड से नवाज़ा गया है। आरिफ़ हुसैन को ये अवॉर्ड अमेरिका के कैलिफॉर्निया में दिया गया।

बलौदाबाज़ार के SP को 'पुलिसवाला ऑस्कर'

बलौदाबाज़ार: बलौदाबाज़ार के एसपी शेख़ आरिफ़ हुसैन को पुलिस का ऑस्कर कहे जाने वाले IACP यानि इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ चीफ़ ऑफ पुलिस अवॉर्ड से नवाज़ा गया है। आरिफ़ हुसैन को ये अवॉर्ड अमेरिका के कैलिफॉर्निया में दिया गया।

शनिवार को कैलिफॉर्निया के सेन डिएगो शहर में आयोजित हुई अवॉर्ड सरेमनी में आईपीएस शेख़ आरिफ़ हुसैन को  IACP अवॉर्ड से सम्मानित किया। स्मार्ट पुलिसिंग के लिए दिए जाने वाले इस अवॉर्ड पर दुनिया भर के पुलिस अफ़सरों की करीबी नजर रहती है। इस अवॉर्ड को हासिल करने के लिए हर साल सैकड़ों एंट्री आती हैं लेकिन चुनिंदा स्मार्ट अफ़सरों को ही ये अवॉर्ड मिल पाता है।

ढाई लाख की आबादी से ज़्यादा वाले शहर में स्मार्ट पुलिसिंग करने के लिए आईपीएस आरिफ़ को ये अवॉर्ड दिया गया और इसके लिए उन्होंने न्यूयॉर्क, कैलिफॉर्निया, कनाडा, और बीजिंग जैसे शहरों की तेज़ तर्रार पुलिस को भी पीछे छोड़ दिया।

क्यों मिला अवॉर्ड?

आरिफ़ हुसैन जब बालोद ज़िले में एसपी के पद पर तैनात थे, तब उन्होंने वहां पुलिस को स्मार्ट बनाने, उसे जनता के साथ जोड़ने के लिए कई कदम उठाए थे। उन्होंने पुलिस नवोदय अभियान चलाया था। इसके अलावा मिशन जीव दया, ई-रक्षा और पूर्ण शक्ति जैसे कार्यक्रम भी चलाए थे।

अवॉर्ड लेने के बाद आईपीएस शेख़ आरिफ हुसैन ने कैलिफोर्निया में दुनियाभर से आए पुलिस अधिकारियों को सामुदायिक पुलिसिंग में किए गए खुद के प्रयोग बताए। कम्यूनिटी पुलिसिंग के उनके इस काम को इससे पहले राष्ट्रीय स्तर पर भी पुरस्कार मिल चुका है।