बैतूल: गैंगरेप के बाद छेड़छाड़ से तंग आकर नाबालिग ने किया खुद को आग के हवाले, इलाज के दौरान मौत

कोतवाली थाना इलाके के एक गांव की 14 वर्षीय बालिका को जली हालत में बुधवार रात इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. नाजुक हालत में भर्ती पीड़िता ने इलाज के दौरान डॉक्टरों को बताया कि करीब डेढ़ महीने पहले गांव के ही तीन युवकों ने उसका गैंगरेप किया था.

बैतूल: गैंगरेप के बाद छेड़छाड़ से तंग आकर नाबालिग ने किया खुद को आग के हवाले, इलाज के दौरान मौत

इरशाद हिंदुस्तानी/बैतूल: मध्यप्रदेश के बैतूल में गैंगरेप की शिकार 14 साल की नाबालिग ने दुराचारियों से तंग आकर खुद को आग के हवाले कर दिया. 95 प्रतिशत जली हालत में उसे नागपुर अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई. आरोप है कि डेढ़ महीने पहले तीन युवकों ने नाबालिग का गैंगरेप किया था. हालांकि इसकी जानकारी पीड़िता ने पहले किसी को नहीं दी थी, लेकिन जब आरोपी उसे तंग करने लगे तो उसने अपनी जान दे दी.

कोतवाली थाना इलाके के एक गांव की 14 वर्षीय बालिका को जली हालत में बुधवार रात इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. नाजुक हालत में भर्ती पीड़िता ने इलाज के दौरान डॉक्टरों को बताया कि करीब डेढ़ महीने पहले गांव के ही तीन युवकों ने उसका गैंगरेप किया था. ये युवक उसे लगातार तंग कर रहे थे. उस पर दुराचार की शिकायत न करने के लिए दबाव बनाया जाता रहा. आरोपी युवक उससे रोज छेड़छाड़ और बदनाम करने की धमकी दे रहे थे. डॉक्टरों के मुताबिक पीड़िता ने उन्हें बताया कि इसी से तंग आकर उसने खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली. किशोरी के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है. उसकी नाजुक हालत देखते हुए डॉक्टरों ने नागपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया था. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

प्यार के बीच दीवार बन रहा था दोस्त, चाकू घोंप कर दिया एक्सिडेंट का रंग

नाबालिग पीड़िता की मौत से शहर में हड़कंप मच गया है. वहीं पुलिस के आला अधिकारियों ने अस्पताल पहुंचकर बालिका की हालत का जायजा लिया था. पीड़िता के बयानों के आधार पर आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दी है. एसपी डीएस भदौरिया के मुताबिक बैतूल, चिचोली और झल्लार थाने की तीन टीमें बनाकर आरोपियों की धरपकड़ के लिए रवाना किया गया है. शुरुआती जांच में संदीप, नितेश और अजय के नाम सामने आए हैं. इनका नाम मृतका ने अपने आखिरी बयान में लिया था.