close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय के कुलपति रहे कुठि‍याला समेत 20 लोगों पर मामला दर्ज

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में कथित तौर पर हुई प्रशासनिक एवं आर्थिक गड़बड़ियों के मामले में  विश्वविद्यालय के कुलपति रहे बृजकि‍शोर कुठियाला समेत कुल 20 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है.

माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय के कुलपति रहे कुठि‍याला समेत 20 लोगों पर मामला दर्ज

भोपाल: मध्य प्रदेश पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में कथित तौर पर हुई प्रशासनिक एवं आर्थिक गड़बड़ियों के मामले में  विश्वविद्यालय के कुलपति रहे बृजकि‍शोर कुठियाला समेत कुल 20 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है. ये मामला 2003 से 2018 तक की नियुक्तियों और वित्तीय गड़बड़ियों को लेकर चल रही जाँच के बाद किया गया है. जिन लोगों पर केस दर्ज किया गया है उनमें भोपाल में बीजेपी के विधायक विश्‍वास सारंग की बहन आरती सारंग का भी नाम है.

जिन 20 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है, उनमें पूर्व कुलपति बृजकिशोर कुठियाला के अलावा अनुराग  सीठा, डॉ. पी शशिकला, पवित्रा श्रीवास्तव, अरुण कुमार भगत, रजनी नागपाल, संजय द्विवेदी, अनुराग बाजपेयी, कंचन भाटिया, मनोज कछारिया, आरती सारंग, रंजन सिंह, सुरेन्द्र पोल, सौरभ मालवीय, सूर्य प्रकाश, प्रदीप डहेरिया, सतेंद्र डहेरिया, गजेंद्र सिंह, कपिल राज चंदोरिया और मोनिका वर्मा शामिल हैं.

ईओडब्ल्यू के अतिरिक्त महानिदेशक के.एन. तिवारी ने रविवार को बताया, ‘विश्वविद्यालय में हुई प्रशासनिक एवं आर्थिक गड़बड़ियों के मामले में कुठियाला सहित 19 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.’ हालांकि, उन्होंने कहा, ‘‘अभी इस एफआईआर में कोई राजनेता नहीं है.’ उन्होंने कहा कि इन लोगों के खिलाफ भादंवि की धारा 420, 409 एवं 120 (बी) के साथ-साथ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के प्रावधानों के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

बता दें कि इस मामले में आर्थिक अनियमितता और नियम विरुद्ध नियुक्ति के आरोप हैं. यूनीवर्सिटी ने EOW को .मामले की जांच और कार्रवाई के लिए लिखा था. EOW एसपी अरुण मिश्रा ने कहा, जांच कमेटी ने एक रिपोर्ट मध्‍य प्रदेश सरकार को सौंप दी है. ये केस माखनलाल चतुर्वेदी राष्‍ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति रहे बृजकि‍शोर कुठियाला के अलावा 19 अन्‍य लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

तिवारी ने बताया कि इसमें मुख्य आरोपी तत्कालीन कुलपति कुठियाला हैं और उनके साथ करीब 18 आरोपी और भी हैं। ये सभी उसी विश्वविद्यालय के ही लोग हैं, जो गलत तरीके से नियुक्त किये गये या जिन्होंने कुठियाला के संरक्षण में गलत तरीके से आर्थिक एवं प्रशासनिक अनियमितताएं की. उन्होंने कहा कि उदाहरण के लिए उन्होंने अपने इलाज के दौरान कुछ मेडिकल बिल रीइम्बर्स कराये थे, जिनको वह नहीं ले सकते थे. तिवारी ने बताया कि इस मामले में उनकी गिरफ्तारियां हो सकती हैं। उन्हें गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जाएगा। उनसे आगे पूछताछ की जाएगी.

input : Bhasha