3 हफ्तों में 45 जिला अस्पताल बन जाएंगे ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर, इन जिलों में लग रहे प्लांट- स्वास्थ्य मंत्री

मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने बताया कि प्रदेश के 45 जिला अस्पतालों को ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है.

3 हफ्तों में 45 जिला अस्पताल बन जाएंगे ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर, इन जिलों में लग रहे प्लांट- स्वास्थ्य मंत्री
प्रभुराम चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री, एमपी (फाइल फोटो)

रायसेन: मध्य प्रदेश में कोरोना कहर बरपा रहा है. अलग-अलग जिलों से आ रही ऑक्सीजन की कमी खबरों के बीच प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि हम अगले तीन हफ्तों में प्रदेश के 45 जिला अस्पतालों को ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर बना रहे हैं. ऐसा होने से हमें बाहर से ऑक्सीजन आयात नहीं करना पड़ेगी.

प्रभुराम चौधरी ने बताया कि डीआरडीओ की मदद से प्रदेश में ऑक्सीजन बनाने वाले प्लांट युद्ध स्तर पर तैयार किए जा रहे हैं, जिनसे सीधे अस्पतालों में ऑक्सीजन की सप्लाई होगी. प्रदेश के 37 जिलों में 10 से 15 मई तक ऑक्सीजन प्लांट चालू हो जाएंगे.

इन जिलों में लग रहे ऑक्सीजन प्लांट

अभी बालाघाट, बडवानी, शहडोल, जबलपुर, दमोह, सतना, मंदसौर सहित 8 जिलों में हाल ही में ऑक्सीजन के प्लांट लगाने की स्वीकृती प्रदान की गई है.

प्रभुराम चौधरी ने स्वीकारी ऑक्सीजन कमी से आई परेशानी
प्रभुराम चौधरी ने स्वीकारा कि कोरोना काल में ऑक्सीजन के लिए दिक्कत आई हैं, लेकिन सरकार ने उसकी कमी न हो, इसका पूरा ध्यान रखा है. हमने वायु सेना और रेल मंत्रालय की मदद से ऑक्सीजन का आयात किया है, जिससे सभी अस्पतालों में फिलहाल ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही है. 

ये भी पढ़ें: CBSE board ने 9वीं से 12वीं की क्लास तक का परीक्षा पैटर्न बदला, यहां क्लिक कर देखें

ये भी पढ़ें: मानवता: कोरोना से मौत पर अपनों ने साथ छोड़ा, मुस्लिम युवाओं ने किया अंतिम संस्कार

WATCH LIVE TV