मध्य प्रदेश के मौसम के बदले तेवर, इस जिले में हुई मूसलाधार बारिश, खरीदी केंद्रों में पड़ा हजारों क्विंटल गेहूं भीगा

सबसे ज्यादा नुकसान खरीदी केंद्रों में खुले में रखे गेहूं का हुआ है. बताया जा रहा है कि हजारों क्विंटल गेहूं बारिश में भीग गया है. केंद्रों में इन्हें सुरक्षित रखने के कोई इंतजाम नहीं है.

मध्य प्रदेश के मौसम के बदले तेवर, इस जिले में हुई मूसलाधार बारिश, खरीदी केंद्रों में पड़ा हजारों क्विंटल गेहूं भीगा
सांकेतिक तस्वीर

सतना: मध्य प्रदेश में वेदर सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आने का सिलसिला जारी है. जिसके चलते प्रदेश के कुछ जिलों में गरज-चमक के साथ बरसात हो रही है. सतना जिले में आज शाम जोरदार आंधी तूफान के साथ घंटो तक मूसलाधार बारिश हुई. 

बारिश के चलते जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है. तेज आंधी-तूफान से जिले में सैकड़ों पेड़ धराशायी हो गए. इतना ही नहीं गेंहूं खरीदी केंद्रों पर पड़ी करोड़ो रूपये का गेहूं भी भीग गई है. तूफान से अमरपाटन के मैहर रोड और रामनगर रोड में तकरीबन दर्जन भर पेड़ टूट गए. रोड पर गिरे पेड़ों के कारण यातायात घंटो तक अवरुद्ध रहा. लेकिन कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा.

ये भी पढ़ें-कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी कर रही छत्तीसगढ़ सरकार,स्वास्थ्य मंत्री ने की अहम बैठक

ग्रामीणों की मदद से पेड़ को काट कर सड़क से किनारे लगाया गया और यातायात को दोबारा चालू किया गया.सबसे ज्यादा नुकसान खरीदी केंद्रों में खुले में रखे गेहूं का हुआ है. बताया जा रहा है कि हजारों क्विंटल गेहूं बारिश में भीग गया है. केंद्रों में इन्हें सुरक्षित रखने के कोई इंतजाम नहीं है. जिसके कारण किसानों की मेहनत और सरकार का पैसा पानी में मिल गया है.

मौसम विज्ञानिकों की मानें तो अगले 3-4 दिन तक मौसम का मिजाज ऐसा ही रहने वाला है. अरब सागर में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है, 14 मई को कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होने के बाद चक्रवाती तूफान बनने की संभावना है. जिसका असर 16 मई से मध्य प्रदेश में नजर आने संभावना है. 

Watch LIVE TV-