राज्यसभा चुनाव: MP की पांच सीटों के लिए धर्मेन्द्र प्रधान सहित 5 प्रत्याशियों ने भरे नामांकन

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार भाजपा के चारों प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र के दो-दो सेट भरे, जबकि कांग्रेस उम्मीदवार ने नामांकन पत्र के चार सेट दाखिल किये हैं. 

राज्यसभा चुनाव: MP की पांच सीटों के लिए धर्मेन्द्र प्रधान सहित 5 प्रत्याशियों ने भरे नामांकन
राज्यसभा की एक सीट जीतने के लिए हर उम्मीदवार को 39 वोटों की जरूरत होगी.(फाइल फोटो)

भोपाल: भाजपा नेता एवं केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं कौशल विकास मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान सहित पांच प्रत्याशियों ने राज्यसभा के लिए मध्यप्रदेश की पांच खाली सीटों के लिए नामांकन पत्र दाखिल किये. नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि थी और नामांकन भरने की समयसीमा तीन बजे तक खत्म होने तक भाजपा के चार और कांग्रेस के एक उम्मीदवार ने नामांकन पत्र भरा. प्रधान के अलावा, केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत, मीसाबंदी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष कैलाश सोनी और वरिष्ठ भाजपा नेता अजय प्रताप सिंह ने भी भाजपा की ओर से अपने-अपने नामांकन दाखिल किये. 

वहीं, कांग्रेस की ओर से मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री राजमणि पटेल ने मध्यप्रदेश से राज्यसभा का नामांकन भरा. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार भाजपा के चारों प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र के दो-दो सेट भरे, जबकि कांग्रेस उम्मीदवार ने नामांकन पत्र के चार सेट दाखिल किये हैं. इन पांचों ने अपना नामांकन-पत्र चुनाव अधिकारी ए पी सिंह के समक्ष विधानसभा परिसर में प्रस्तुत किये. 

यह भी पढ़ें- राज्यसभा चुनाव: बीजेपी ने उतारे 11 उम्मीदवार, SP-BSP की बढ़ी मुसीबत

भाजपा उम्मीदवारों ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान की मौजूदगी में अपना नामांकन भरा, जबकि कांग्रेस उम्मीदवार ने मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की मौजूदगी में अपना नामांकन दाखिल किया.

पांचों उम्मीदवारों का निर्विरोध चुने जाने की उम्मीद 
इन पांचों उम्मीदवारों का निर्विरोध चुने जाने की उम्मीद है. विधानसभा के एक अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में मध्यप्रदेश विधानसभा में 230 सदस्य हैं. इनमें से भाजपा के 165, कांग्रेस के 57, बसपा के चार, निर्दलीय तीन एवं एक मनोनीत सदस्य है. इस हिसाब से राज्यसभा की एक सीट जीतने के लिए हर उम्मीदवार को 39 वोटों की जरूरत होगी. 

भाजपा चार और कांग्रेस एक सीट जीत सकती है. भाजपा के एक पदाधिकारी ने बताया कि अजय प्रताप सिंह प्रदेश के विन्ध्य क्षेत्र के रहने वाले हैं और कैलाश सोनी प्रदेश के महाकौशल क्षेत्र के .  इस साल के अंत में प्रदेश में होने वाले चुनाव के मद्देनजर इन दोनों नेताओं को भाजपा विन्ध्य एवं महाकौशल क्षेत्र में पार्टी के आधार को मजबूत बनाने के लिए राज्यसभा भेज रही है. 

इनपुट भाषा से भी