BJP कार्यकर्ताओं ने शिवराज सिंह को भेंट की PM मोदी की खून से बनी फोटो, लिखवाया- 'नमो अगेन'

दुर्गेश केशवानी और महेश शर्मा नाम के दोनों ही कार्यकर्ताओं ने यह फोटो फिलहाल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सौंप दी है. बता दें शिवराज सिंह खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर उन्हें यह फोटो भेंट करेंगे. 

BJP कार्यकर्ताओं ने शिवराज सिंह को भेंट की PM मोदी की खून से बनी फोटो, लिखवाया- 'नमो अगेन'
पीएम मोदी की खून से बनी पेंटिंग के साथ पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के दुर्गेश केशवानी और महेश शर्मा नाम के दो कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खून से बनी तस्वीर बनवाई है, जिसे वह प्रधानमंत्री मोदी को भेंट करना चाहते हैं. दुर्गेश केशवानी और महेश शर्मा नाम के दोनों ही कार्यकर्ताओं ने यह फोटो फिलहाल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सौंप दी है. बता दें शिवराज सिंह खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर उन्हें यह फोटो भेंट करेंगे. 

वहीं बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा पीएम मोदी की खून से बनाई यह तस्वीर इन दिनों चर्चा का विषय भी बनी हुई है. दोनों ही बीजेपी कार्यकर्ताओं की मानें तो वह प्रधानमंत्री की निर्णायक नीति से काफी प्रभावित हैं और इस साल भी उनके ही प्रधानमंत्री बनने की कामना कर रहे हैं. कर्यकर्ताओं की मानें तो वह खुद ही प्रधानमंत्री जी से मिलना चाहते थे और उन्हें यह तस्वीर भेंट करना चाहते थे, लेकिन कुछ कारणों के चलते वह ऐसा नहीं कर सके. जिसके चलते उन्होंने यह तस्वीर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सौंप दी है और प्रधानमंत्री मोदी तक यह तस्वीर पहुंचाने के लिए कहा है.

पीएम मोदी का कांग्रेस पर निशाना, कहा - कांग्रेस अहंकारी, राष्ट्र कह रहा 'अब बहुत हुआ'

ऐसे में जिस किसी को भी पीएम मोदी की खून से बनी इस तस्वीर के बारे में पता चल रहा है, वह इसी की चर्चा में लगे हुए हैं. बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के चलते मध्य प्रदेश के खरगोन पहुंच रहे हैं. जहां वह बीजेपी प्रत्याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार करेंगे और जनसभा को संबोधित करेंगे. जहां प्रधानमंत्री का पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पार्टी के अन्य अधिकारी स्वागत करेंगे. 

चंद्रबाबू नायडू बोले, 'राहुल गांधी अच्छे नेता, लेकिन नतीजों के बाद तय होगा PM का नाम'

बता दें इससे पहले पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद शामली के कैराना में मुस्लिम युवकों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने खून से चिट्ठी लिखी थी, जिसमें युवकों ने प्रधानमंत्री मोदी से उन्हें सेना में भर्ती करने की मांग की थी और अपने देश के जवानों की शहादत को बदला लेने की बात कही थी.