अब चेहरा दिखाने से ही मिल जाएगा सर्टिफिकेट, जानें CBSE की इस नई सुविधा के बारे में

डिजिलॉकर में फेशियल रिक्गनेशन सिस्टम शुरू किया गया है.जिसमें छात्रों को ना तो किसी डॉक्यूमेंट की जरूरत होगी और ना ही इंटरनेट पर समय बरबाद होगा.अब छात्र अपना चेहरा दिखा कर 10वीं और 12वीं के सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकते हैं.

अब चेहरा दिखाने से ही मिल जाएगा सर्टिफिकेट, जानें CBSE की इस नई सुविधा के बारे में
सांकेतिक तस्वीर

CBSE (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने छात्रों का समय बचाने के लिए एक सिस्टम तैयार किया है. जिसमें छात्रों को ना तो किसी डॉक्यूमेंट की जरूरत होगी और ना ही इंटरनेट पर समय बरबाद होगा.अब छात्र अपना चेहरा दिखा कर 10वीं और 12वीं के सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकते हैं.

इस सुविधा के लिए डिजिलॉकर में फेशियल रिक्गनेशन सिस्टम शुरू किया गया है. सिस्टम फेशियल रिक्गनेशन सिस्टम (FRS) के लिए कोई पासवर्ड या डॉक्यूमेंट जैसे आधार नंबर या मोबाइल नंबर की जरूरत नहीं पड़ेगी. CBSE के छात्रों को केवल उनका चेहरा दिखाना होगा और उन्हें उनका सेर्टिफिकेट मिल जाएगा.

डिजीलॉकर में पहले से होगी आपकी इमेज
डिजीलॉकर में फेशियल रिक्गनेशन सिस्टम उन छात्रों के लिए सबसे ज्यादा मददगार है जो अपना मोबाइल नंबर या आधार नंबर भूल जाते हैं. कई बार आधार कार्ड खोने पर भी अब छात्रों को परेशानी का सामना नहीं करना होगा.डिजीलॉकर में पहले से ही आपकी डिजिटल इमेज मौजूद रहेगी.

ये भी पढ़ें-MP:जेल में कैदियों पिया था एसिड, एक की मौत, मरने से पहले कहा-कपड़े उतार कर मारते थे

जब छात्र सेर्टिफिकेट का ऑप्शन चुनेंगे तो एडमिट कॉर्ड की फोटो से चेहरे का मिलान करना होगा और ऐसा होते ही डिजीलॉकर खुल जाएगा. इसके बाद छात्र अपना सर्टिफिकेट डाउनलोड कर लेंगे.