close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CG: एक ही परिवार के पांच लोगों ने खाया जहर, 3 की मौत, दो की हालत अब भी गंभीर

परिवार के सभी सदस्यों के जहर खाने का खुलासा तब हुआ जब वृद्धा का दामाद दोपहर को काम से घर पहुंचा.

CG: एक ही परिवार के पांच लोगों ने खाया जहर, 3 की मौत, दो की हालत अब भी गंभीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

(शैलेंद्र सिंह ठाकुर)/बिलासपुरः छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के रतनपुर थाना क्षेत्र में रविवार को एक ही परिवार के पांच लोगों ने संदिग्ध परिस्थितयों में जहर खा लिया. घटना में वृद्धा और उसकी दो नातिनों की मौत हो गई, जबकि नाती और बेटी की हालत गंभीर बनी हुई है, जिनका सिम्स में इलाज चल रहा है. परिवार के सभी सदस्यों के जहर खाने का खुलासा तब हुआ जब वृद्धा का दामाद दोपहर को काम से घर पहुंचा. इस तरह से एक ही परिवार के सभी सदस्यों के जहर खाने के बाद आस-पास के इलाके में सनसनी फैली हुई है. वहीं परिवार वालों ने एक साथ जहर क्यों खाया, इसके कारण का अभी तक पता नहीं लगाया जा सका है.

आगरा: पिता ने तीन बच्चों समेत खाया जहर, बेटी और पिता की मौत

मिली जानकारी के मुताबिक बेलतरा रोड के जाली तोड़ निवासी सत्तो साहू रविवार सुबह किसी काम से बाहर गया हुआ था. वह करीब दो घंटे बाद जब घर लौटा तो दरवाजा अंदर से बंद था. इस पर उसने दरवाज खटखटाया, लेकिन काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला. इस पर उसने अनहोनी की आशंका में पड़ोसियों को आवाज दी, जिसके बाद पड़ोसियों ने भी दरवाजा खुलवाने की कोशिश की, लेकिन दरवाजा नहीं खुला. काफी देर कोशिश करने पर भी जब अंदर से किसी तरह की आवाज नहीं आई तो सत्तो ने पुलिस को इसकी जानकारी दी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस काफी कोशिशों के बाद दरवाजा खोल सकी. 

भारत का एक ऐसा गांव जहां प्यास बुझाने के लिए मिल रहा 'जहर'

दरवाजा खुलने पर जैसे ही पुलिस और अन्य लोग घर के भीतर पहुंचे, अंदर का नजारा देख सब हैरान रह गए. घर के अंदर सत्तो की सास गुलाबो बाई (60), पत्नी प्रस्तुति (35), बेटी निकिता (16) और नीलम (12) और बेटा विकास (18) सभी बेहोशी की हालत में पड़े हुए थे. जिसके बाद सबको जल्दी ही स्थानीय रतनपुर स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया. जहां जांच के बाद चिकत्सकों ने गुलाबो बाई, निकिता और नीलम को मृत घोषित कर दिया, जबकि प्रस्तुति और विकास को गंभीर हालत में सिम्स में भर्ती कराया गया है.

भूख से तड़प रहे थे बच्चे, नहीं जुटा सका रोटी, परिवार को जहर खिलाकर ले ली खुद की जान

सत्तो ने पुलिस को बताया कि वह सुबह करीब 10 बजे किसी काम से निकला था, तब घर में सबकुछ ठीक था. उसकी सास भी आई हुई थीं. ऐसे में सारा परिवार साथ ही था. इसके बाद जब वह दोपहर में लौटा तो सभी इस हालत में मिले. वहीं पुलिस को अभी तक उनके जान देने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है. पुलिस पूरे मामले को लेकर संदेह की स्थिति में है और कुछ भी स्पष्ट नहीं बता पा रही है. फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है और जांच कर रही है.