close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CG: शिकायत लेकर थाने पहुंचे किन्नर, पुलिस ने कहा- 'खुद ही निपट लो' और फिर...

कुछ किन्नर मिलकर कथित नकली किन्नर घसीटते हुए थाने पकड़ लाए और थाने के बाहर ही उससे मारपीट करने लगे. 

CG: शिकायत लेकर थाने पहुंचे किन्नर, पुलिस ने कहा- 'खुद ही निपट लो' और फिर...
घटना के बाद पीड़ित व्यक्ति (नकली किन्नर) इतना सहमा हुआ है कि वह सामने नहीं आ रहा है. (फोटो साभारः youtube)

सूरजपुरः अपने करतूतों से लगातार सुर्ख़ियों में रहने वाली सूरजपुर पुलिस फिर से एक बार विवादों में हैं और इस बार वजह बनी है किन्नरों का आपसी विवाद. जिस पर पुलिस के आलसी रवैया का ऐसा असर हुआ कि किसी की जान पर बन आई. दरअसल, सूरजपुर में कुछ किन्नर एक नकली किन्नर के होने की शिकायत लेकर सूरजपुर के ओडगी पुलिस थाने पहुंचे थे, लेकिन इन किन्नरों की बात सुनने के बजाय पुलिस ने उन्हें आपस में ही मुद्दा सुलझाने की सलाह देते हुए बाहर जाने को कह दिया. इस पर कुछ किन्नर मिलकर कथित नकली किन्नर घसीटते हुए थाने पकड़ लाए और थाने के बाहर ही उससे मारपीट करने लगे. यही नहीं किन्नरों ने कथित नकली किन्नर के बाल काट दिए, कपड़े फाड़ दिए और उसके साथ खूब मारपीट की.

CPM यूथ विंग ने ट्रांसजेंडरों के लिए दरवाजे खोल, 9 मेंबर्स को संगठन में शामिल किया

वहीं जब पूरा मामला मीडिया में आया तो अब पुलिस के आला अधिकारी पूरे मामले की जांच की बात कह रहे हैं. वहीं नकली किन्नर के साथ हुई मारपीट का वहीं खड़ी भीड़ में से किसी ने वीडियो बना लिया और इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया, जिसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. हर तरफ लोग इस वीडियो के बारे में चर्चा कर रहे हैं और पुलिस के रवैये पर सवाल उठा रहे हैं. वहीं इस घटना के बाद पीड़ित व्यक्ति (नकली किन्नर) इतना सहमा हुआ है कि वह सामने नहीं आ रहा है.

बिंदी लगाकर, दुपट्टा ओढ़कर गौतम गंभीर ने किया कुछ ऐसा, जानकर आप भी करेंगे सलाम

वहीं इतनी गंभीर घटना पर कारवाई करने की बजाये पुलिस के आला अधिकारी खुद भी शिकायत के इंतजार में बैठे हैं. पुलिस का कहना है कि पीड़ित युवक ने अभी तक इसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई है, ऐसे में जब तक व्यक्ति इस पूरी घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं कराता तब तक कार्रवाई नहीं की जा सकती. जबकि इस पूरी घटना के गवाह खुद पुलिसवाले ही हैं. ऐसे में इस पुरे मामले में पीड़ित को न्याय मिल पायेगा या नहीं इस पर अभी भी सवालिया निशान है.