छत्तीसगढ़ चुनाव 2018: वैशाली नगर पर होगी बीजेपी की जीत या कब्जा जमाएगी कांग्रेस

बता दें वैशाली नगर विधानसभा सीट का इतिहास 2 विधानसभा चुनाव ही पुराना है. 2008 में परिसीमन के बाद अस्तित्व में आई इस सीट पर पहले चुनाव में बीजेपी की सरोज पांडेय ने करीब 22 हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी.

छत्तीसगढ़ चुनाव 2018: वैशाली नगर पर होगी बीजेपी की जीत या कब्जा जमाएगी कांग्रेस
फाइल फोटो

दुर्गः छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले की वैशाली नगर विधानसभा सीट पर पिछले विधानसभा चुनाव से बीजेपी का कब्जा है. प्रदेश के इस विधानसभा क्षेत्र में हमेशा ही कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला है, लेकिन इस बार बसपा और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पार्टी के गठबंधन के बाद इस मुकाबले में नया मोड़ आने की आशंका है. बता दें वैशाली नगर विधानसभा सीट का इतिहास 2 विधानसभा चुनाव ही पुराना है. 2008 में परिसीमन के बाद अस्तित्व में आई इस सीट पर पहले चुनाव में बीजेपी की सरोज पांडेय ने करीब 22 हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी.

2013 विधानसभा चुनाव नतीजे
2013 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी विद्यारतन भासीन ने 72,594 वोटों के साथ बड़ी जीत हासिल की थी. विद्यारतन भासीन के प्रतिद्वंद्वी और कांग्रेस प्रत्याशी भजन सिंह निरंकारी को 2013 के चुनाव में 48,146 वोट मिले थे. जिसके चलते उन्हें बड़ी हार का सामना करना पड़ा था.

2009 उपचुनाव नतीजे
2009 में हुए उपचुनाव में भाजपा को जनता की नाराजगी देखने को मिली. उपचुनाव में जनता ने कांग्रेस प्रत्याशी भजन सिंह निरंकारी को 47,225 वोटों के साथ अपना प्रतिनिधी चुना. जबकि भाजपा प्रत्याशी जागेश्वर साहू को 45,997 वोट मिले. 

2008 विधानसभा चुनाव नतीजे
2008 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी डॉ सरोज पांडेय को जनता ने अपना प्रतिनिधी चुना. चुनाव में उन्हें 63,078 वोटों के साथ जीत दर्ज की. सरोज पांडेय की तुलना में कांग्रेस प्रत्याशी बृजमोहन सिंह 41,811 वोट ही अपने नाम कर पाए. जिसके चलते बृजमोहन अग्रवाल को 21,267 वोटों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा.