छत्तीसगढ़ चुनाव: CM रमन के गृह नगर कवर्धा में हैट्रिक पर टिकी BJP की नजर

पिछले दो विधानसभा चुनवों से बीजेपी ही इस सीट पर जीत दर्ज कराती आई है, लेकिन फिर भी 2018 के विधानसभा चुनाव में कवर्धा विधानसभा सीट बीजेपी के लिए चिंता का विषय बनी हुई है

छत्तीसगढ़ चुनाव: CM रमन के गृह नगर कवर्धा में हैट्रिक पर टिकी BJP की नजर
फाइल फोटो

कवर्धाः छत्तीसगढ़ की कवर्धा विधानसभा सीट राज्य की हाई प्रोफाइल सीट्स में से एक है. सीएम रमन सिंह का गृह नगर होने के चलते इस सीट पर पूरे प्रदेश की नजर रहती है. ऐसे में सीएम रमन सिंह की साख जुड़ी होने के कारण बीजेपी के लिए इस सीट पर जीत दर्ज कराना बेहद जरूरी हो जाता है. बता दें पिछले दो विधानसभा चुनवों से बीजेपी ही इस सीट पर जीत दर्ज कराती आई है, लेकिन फिर भी 2018 के विधानसभा चुनाव में कवर्धा विधानसभा सीट बीजेपी के लिए चिंता का विषय बनी हुई है.

कवर्धा विधानसभा सीट
बता दें रमन सिंह कवर्धा विधानसभा सीट को किसी भी कीमत पर अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहते. ऐसे में 2013 के चुनाव नतीजे उन्हें असमंजस में डाले हुए है कि इस बार कवर्धा में बीजेपी का चेहरा कौन होगा. बता दें कवर्धा विधानसभा सीट के लिए कई बीजेपी नेताओं में होड़ लगी हुई है. ऐसे में देखना यह है कि वह कौन सा नेता होगा जिसे सीएम डॉ रमन सिंह कवर्धा में बीजेपी उम्मीद्वार के तौर पर चुनावी रण में उतारते हैं.

2003 विधानसभा चुनाव नतीजे
बता दें 2003 के चुनावों में कांग्रेस से योगेश्वर राज सिंह ने कवर्धा में 51,092 वोट हासिल किए थे तो वहीं बीजेपी के सियाराम साहू को 46,904 वोट ही मिले. नतीजन सियाराम साहू को हार का सामना करना पड़ा. 

2008 विधानसभा चुनाव नतीजे
वहीं 2008 के चुनावों में भाजपा प्रत्याशी सियाराम साहू को क्षेत्र के विधायक के रूप में चुने गए. सियाराम साहू को जहां 78,817 वोट मिले तो वहीं कांग्रेस प्रत्याशी योगेश्वर राज सिंह को 68,409 वोट मिले. 

2013 विधानसभा चुनाव नतीजे
2013 के चुनावों में जीत की कड़ी कायम रखते हुए भाजपा ने सीट पर जीत हासिल की. भाजपा की ओर से प्रत्याशी अशोक साहू को 93,645 तो कांग्रेस प्रत्याशी अकबर भाई को 91,088 वोट ही मिले.