राजू गांधी ने पेश की इंसानियत की मिसालः जो काम सरकार को करना चाहिए, वो ये शख्स अकेले दम पर कर रहा

ये वही राजू गांधी हैं जो अब तक 1600 जरूरतमंदों को मुफ्त में खून दिलवा चुके हैं...

राजू गांधी ने पेश की इंसानियत की मिसालः जो काम सरकार को करना चाहिए, वो ये शख्स अकेले दम पर कर रहा
मशीन के साथ राजू गांधी और उनका सहयोगी...

पवन दुर्गम/बीजापुर: कोरोना महामारी के इस दौर में जहां लोग घरों से निकले में डर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ एक शख्स ऐसा भी है जो हर वक्त दूसरों की मदद के लिए तत्पर रहता है. कोरोना की दूसरी लहर से बिगड़ते हालातों के बीच उसने अब एक ऑक्सीजन मशीन ही खरीद डाली है. इस ऑक्सीजन मशीन को वह जरूरतमंदों को फ्री में उपलब्ध कराएगा. हम बात कर रहे हैं राजू गांधी की. 

1600 जरूरतमंदों को खून और चार को प्लाज्मा दिलवा चुके हैं
ये वही राजू गांधी हैं जो अब तक 1600 जरूरतमंदों को मुफ्त में खून दिलवा चुके हैं. जब भी बीजापुर जिला अस्पताल में किसी को भी खून की जरूरत हो तो सबसे पहला नाम किसी की जहन में आता है तो वो हैं राजू गांधी. यह अपने निजी खर्च पर हजारों लोगों की सेवा करते हैं. कोरोना महामारी के दौरान राजू गांधी रायपुर के हॉस्पिटल में 4 जरूरतमंदों को प्लाज्मा भी दिलवा चुके हैं. 

कौन हैं राजू गांधी
बीजापुर में कपड़े का व्यापार करने वाले राजू गांधी को समाजसेवा के लिए पहचाना जाता है. लॉकडाउन के दौरान राजू गांधी दिन में ड्यूटी पर तैनात जवानों को अपने घर से बना चाय नाश्ता-निशुल्क कराते हैं. बसस्टैंड, हॉस्पिटल चौक, कलेक्टर कार्यालय चौक और पुलिसलाइन में तैनात जवानों को वह अपने एक सहयोगी के साथ चाय पिलाते हैं.

ऑक्सीजन मशीन की खासियत

  1. मशीन में करीब 250 एमएल पानी डालने से दो घंटे तक आक्सीजन मिलता है. 
  2. इसे एक पाइप और मास्क के जरिए मरीज लेता है.
  3. हर दो घंटे में इतना ही पानी डालना होता है.
  4. इसका इस्तेमाल और ऑपरेट करने में कोई जटिलता नहीं है.
  5. मशीन के उपयोग के लिए मास्क की भी जरूरत होती है

मरीज को खरीदना पड़ेगा मास्क
राजू गांधी ने सीएमएचओ डॉ बीआर पुजारी एवं सिविल सर्जन डॉ अभय तोमर को भी दी है. उन्होंने कहा कि कोई भी जरूरत मंद इसका उपयोग कर सकता है. हालांकि, मास्क मरीज को खुद ही खरीदना होगा, क्योंकि इस्तेमाल किए गए मास्क से संक्रमण का खतरा रहता है. राजू  ने कहा कि बीजापुर के लोगों के लिए ये मशीन मुफ्त में दी जाएगी.

100 सिलेंडर की दरकार
बीजापुर जिला अस्पताल के सीएमएचओ डॉ बीआर पुजारी ने बताया कि कोविड हॉस्पिटल में अभी 104 बड़े और 35 छोटे आक्सीजन सिलेण्डर हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 100 और सिलेण्डर की मांग की गई है. अभी कोविड हाॅस्पिटल में 410 बिस्तर हैं. इनमें से 44 बेड भरे हैं. जरूरत पड़ने पर पॉलीटेक्निक कॉलेज में 100 और बेड का हॉस्पिटल बनाया जाएगा. 

ये भी पढ़ें: जानिए कैसे एक चौकीदार बना प्रोफेसर! ये खबर आपको प्रेरणा से भर देगी

ये भी पढ़ें: कोरोना महामारी में जैन समाज ने पेश की मिसाल, की ऐसी पेशकश, जानेंगे तो आप भी करेंगे तारीफ

WATCH LIVE TV