छत्तीसगढ़: मानूसून कोटा पूरा करने के लिए सिर्फ 59mm बारिश और, इस महीने गिरेगा अच्छा पानी

छत्तीसगढ़ में अब तक 1091 मिमी बारिश हुई है. यह मानसून सीजन में होने वाली औसत बारिश यानी 1150 मिमी से सिर्फ 59 मिमी कम है. अभी सितंबर का पूरा महीना बाकी है. मौसम विभाग की मानें तो लौटते मानसून के कारण बनी परिस्थितियों में अच्छी बारिश हो सकती है. 

छत्तीसगढ़: मानूसून कोटा पूरा करने के लिए सिर्फ 59mm बारिश और, इस महीने गिरेगा अच्छा पानी
सांकेतिक तस्वीर.

रायपुर: छत्तीसगढ़ को मानसून सीजन में औसत बारिश दर्ज करने के लिए सिर्फ 60 मिलिमीटर और पानी की दरकार है. मौसम विभाग ने उत्तरी और दक्षिणी छत्तीसगढ़ में समुद्रतल से 0.9 किमी  ऊपर हवा में बने चक्रवात के कारण आगामी 7 सितंबर को राज्य में भारी बारिश होने की संभावना जताई है. अगर मौसम विभाग का अनुमान सही साबित होता है और बारिश हो जाती है तो छत्तीसगढ़ इस मानसून सीजन में औसत वर्षा दर्ज कर लेगा.

भ्रष्ट खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना ने 10 वर्षों में कितना IT रिटर्न भरा इसकी जांच होगी

मानूसून में औसत वर्षा दर्ज करने के लिए 59 मिमी पानी और 
छत्तीसगढ़ में अब तक 1091 मिमी बारिश हुई है. यह मानसून सीजन में होने वाली औसत बारिश यानी 1150 मिमी से सिर्फ 59 मिमी कम है. अभी सितंबर का पूरा महीना बाकी है. मौसम विभाग की मानें तो लौटते मानसून के कारण बनी परिस्थितियों में अच्छी बारिश हो सकती है. ऐसे में इस साल राज्य में मानसून के दौरान औसत से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की जा सकती है.

बच्चों को अंडे खिलाने पर अड़ीं इमरती देवी, बोलीं- विरोध होता है तो हो, मुझे फर्क नहीं पड़ता

इस बार छत्तीसगढ़ में धान की अच्छी फसल होने का अनुमान 
छत्तीसगढ़ के लिए यह शुभ संकेत हैं. क्योंकि अच्छी बारिश का फायदा न सिर्फ कृषि क्षेत्र को मिलेगा बल्कि हाइड्रो इलेक्ट्रिसिटी प्रॉडक्शन कंपनियों को भी लाभ मिलेगा. राज्य के बांधों में ज्यादा पानी रहने पर रबी की फसल के लिए भी सिंचाई विभाग की ओर से नहरों में पानी छोड़ा जा सकता है. वहीं सितंबर महीने में बारिश होना खरीफ की फसल के लिए काफी अच्छा है. छत्तीसगढ़ में इस बार धान की अच्छी फसल होने का अनुमान है.

WATCH LIVE TV