छत्तीसगढ़: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, नारायणपुर में 7 नक्सली गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में पुलिस ने सोमवार को 7 नक्सलियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की.

छत्तीसगढ़: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, नारायणपुर में 7 नक्सली गिरफ्तार
इरपानार, भट्टबेड़ा और गुमियाबेडा के जंगल से पुलिस ने सात नक्सलियों को गिरफ्तार किया.

नारायणपुर: छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में पुलिस ने सोमवार को 7 नक्सलियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की. इरपानार, भट्टबेड़ा और गुमियाबेडा के जंगल से पुलिस ने सात नक्सलियों को गिरफ्तार किया. इनमें एक महिला नक्सली भी शामिल है. आपको बता दें कि इरपानार से पकड़े गए नक्सली 24 फरवरी को हुई मुठभेड़ में शामिल थे. इस मुठभेड़ में 4 पुलिस जवान शहीद हो गए थे. गिरफ्तार नक्सलियों को मंगलवार को अदालत में पेश किया गया. गिरफ्तार नक्सली, नक्सलियों को क्षेत्र में पुलिस के आने की सूचना देना, संगठन का प्रचार-प्रसार, नक्सलियों को सामान पहुंचाना और पुलिस टीम को नुकसान पहुंचाने जैसे कार्यों में लिप्त थे.

ये भी पढ़ें : मध्य प्रदेश: भारत बंद प्रदर्शन के दौरान सीधी में पुलिस ने वकीलों पर भांजी लाठियां

सोमवार (9 अप्रैल) को जिला बल और आईटीबीपी की संयुक्त पुलिस पार्टी को ग्राम गुमियाबेड़ा, कोटेनार, पराली की ओर रवाना किया गया था. तलाशी गश्त के दौरान गुमियाबेड़ा और कोटनार गांव के जंगल में 2 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस टीम को देखकर छुप रहे थे. टीम ने दोनों संदिग्ध व्यक्तियों को घेराबंदी कर पकड़ा. गिरफ्तार नक्सलियों ने पूछताछ किए जाने पर अपना नाम बुधराम वड्डे (40) निवासी परलभाट थाना कुकड़ाझोर (नक्सली सहयोगी), सोनारू उर्फ गडगे वड्डे (45) निवासी परलकोट (नक्सली सहयोगी) बताया. इन्होंने 16 जनवरी को बोरंड के पास प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण कार्य में लगे वाहनों को आगजनी कर क्षतिग्रस्त करने की घटना में शामिल होना भी स्वीकार किया. इन्हें मंगलवार को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया.

ये भी पढ़ें : मध्य प्रदेश: बंद का मिलाजुला असर, ग्वालियर में ड्रोन से रखी जा रही नजर

9 अप्रैल को कैम्प कड़ेनार से डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त पुलिस पार्टी ग्राम इरपानार की ओर रवाना किया गया था. सर्चिंग के दौरान ग्राम इरपानार के जंगल से जैतराम कश्यप (30) निवासी इरपानार (आदेरबेड़ा जनताना सरकार सदस्य), मंडीराम (35) निवासी इरपानार (आदेरबेड़ा जनताना सरकार सदस्य) और मनाजी कतलामी निवासी इरपानार (आदेरबेड़ा मिलिशिया सदस्य) बताया. 24 जनवरी को ग्राम इरपानार के जंगल में पुलिस पार्टी और नक्सली मुठभेड़ में पुलिस के चार जवान शहीद हो गए थे. पकड़े गए नक्सलियों ने उस घटना में शामिल होना स्वीकार किया. 

ये भी पढ़ें : 'भारत बंद' को लेकर देश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम, कई शहरों में कर्फ्यू

थाना ओरछा से जिला बल और छसबल की संयुक्त पुलिस पार्टी ने आदेरबेड़ा और भट्टबेड़ा के बीच जंगल में घेराबंदी कर लालूराम उसेंडी (50) निवासी भट्टबेड़ा, (भट्टबेड़ा मिलिशिया सदस्य) और झनकाय कतलाम (19) निवासी आदेरबेड़ा (आदेरबेड़ा मिलिशिया सदस्य) को गिरफ्तार किया. उनके कब्जे से बैनर, बिजली वायर, छर्रा व नक्सली साहित्य बरामद किया गया.

(इनपुट एजेंसी से भी)