छत्तीसगढ़: प्रेमी जोड़े ने की आत्महत्या, कमरे में फांसी से लटकते मिले शव, जांच में जुटी पुलिस

सूचना पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली और घर का दरवाजा तोड़ा गया. पुलिस ने दोनों के शव फंदे से उतारकर मर्ग कायम किया,

छत्तीसगढ़: प्रेमी जोड़े ने की आत्महत्या, कमरे में फांसी से लटकते मिले शव, जांच में जुटी पुलिस
(सांकेतिक तस्वीर)

प्रकाश शर्मा/जांजगीर चांपा: जांजगीर-चांपा जिले में एक प्रेमी जोड़े की लाश घर में फांसी के फंदे पर लटकी मिली है. दोनों ने किन परिस्थितियों की वजह से मौत को गले लगाया यह अभी स्पष्ट नही है. पुलिस ने शव पंचनामा के बाद मर्ग कायम कायम कर लिया है और शव पोस्टमार्टम के लिए रवाना कर दिया है. घटना डभरा थाना क्षेत्र के छुहीपाली गांव की है. 

डभरा पुलिस के अनुसार कल रात छुहीपाली गांव के रहने वाले दादू लाल टंडन के द्वारा डभरा थाने आकर सूचना दी थी. बताया गया कि उनके मकान मे एक दिसंबर 2019 से मोहम्मद शहजाद खान, जोकि नगर पंचायत मे कंप्यूटर ऑपरेटर है. अपनी प्रेमिका के साथ किराये पर रह रहे थे. कल सुबह से शाम तक उनके घर का दरवाजा बंद था और देर शाम खिड़की के छेद से झांकने पर दोनों एक साथ फांसी के फंदे पर लटके मिले. सूचना पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली और घर का दरवाजा तोड़ा गया. पुलिस ने दोनों के शव फंदे से उतारकर मर्ग कायम किया, शव पोस्टमार्टम के लिए रवाना कर दिया और मामले की जांच शुरू कर दी है. फिलहाल दोनों ने किन हालातों मे मौत को गले लगाया है, यह स्पष्ट नही हो सका है. 

लिव इन रिलेशनशिप की भी उठी बात
डबरा की छुहिपाली में प्रेमी जोड़े की लाश मिलने के बाद दोनों के लिव इन रिलेशनशिप में होने की बात कही जा रही है. स्थानीय लोगों का मानना है कि इन दोनों ने विवाह नहीं किया था और घर के लोगों की मर्जी के खिलाफ जाकर छुहिपाली में एक साथ रह रहे थे. हालांकि, मौत के कारणों में परिवार की नाराजगी की वजह फिलहाल परिलक्षित नहीं हो रही है. इसके बावजूद कहीं ना कहीं ऐसा कहा जा रहा है कि परिवार के नाखुश होने की वजह से दोनों ने मौत को गले लगा लिया.

इस मामले में डभरा थाना के सब इंस्पेक्टर जांच अधिकारी नवीन पटेल का कहना है कि युवक-युवती महीने भर से छुहिपाली में किराये के मकान में रहते थे. इनकी लाश बंद कमरे में फांसी के फंदे पर लटकी मिली है. लड़का और लड़की दोनों अलग-अलग धर्मों के थे. इस मामले में घटना के कारणों की जांच की जा रही है. मौत के कारणों की ज्यादा जानकारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हो सकेगी.