CG politics: टीएस सिंहदेव दिल्ली रवाना, कांग्रेस के बड़े नेताओं से होगी मुलाकात
X

CG politics: टीएस सिंहदेव दिल्ली रवाना, कांग्रेस के बड़े नेताओं से होगी मुलाकात

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव अचानक दिल्ली रवाना हुए हैं. उनके साथ कांग्रेस के एक विधायक भी हैं. 

CG politics: टीएस सिंहदेव दिल्ली रवाना, कांग्रेस के बड़े नेताओं से होगी मुलाकात

रायपुरः छत्तीसगढ़ में एक बार फिर सियासी हलचल तेज हो गई है. प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव अचानक दिल्ली रवाना हो गए हैं, उनके साथ कांग्रेस विधायक शैलेश पांडेय भी है. दिल्ली रवाना होने से पहले टीएस सिंहदेव ने बताया कि उन्होंने छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया से मुलाकात का समय मांगा है. इसके अलावा भी कुछ और बड़े नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं. 

दो दिन दिल्ली में रहेंगे सिंहदेव 
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि ''दिल्ली आना-जाना लगा रहता है. उन्होंने छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया से फोन पर बात कर मुलाकात का समय मांगा है. हालांकि पुनिया छत्तीसगढ़ से बाहर है. लेकिन कांग्रेस और दूसरे नेताओं से भी उन्होंने संपर्क किया है. इसलिए वह दो दिन दिल्ली में रहेंगे इस दौरान उनकी कांग्रेस के कुछ नेताओं सो मुलाकात होगी. खास बात यह भी है कि इस बार टीएस सिंहदेव के साथ विधायक शैलेष पांडेय भी दिल्ली गए हुए हैं. 

सिंहदेव के दिल्ली दौरे से सियासी हलचल 
दरअसल, छत्तीसगढ़ में भले ही कांग्रेस सरकार को तीन साल का समय पूरा होने जा रहा है. लेकिन राज्य की राजनीति में ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री पद का मुद्दा अभी भी चर्चा का विषय बना हुआ है. खास बात यह भी है कि नेताओं की बयानबाजी भी इस मुद्दे को जमकर हवा देती है. हाल ही में छत्तीसगढ़ के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने प्रदेश का दौरा किया था और कांग्रेस संगठन की बैठक में भी वह शामिल हुए थे. 

टीएस सिंहदेव के अचानक दिल्ली रवाना होने की जानकारी मिलने के बाद राजनीतिक हलकों में चर्चाएं तेज हो गई. इस प्रवास को आज हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक से जोड़कर भी देखा जा रहा है. साथ ही कुछ ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या दिल्ली से राज्य की राजनीति में कोई बड़ा परिवर्तन तो नहीं होने वाला है. हालांकि यह सब चर्चाएं ही है. 

छत्तीसगढ़ कांग्रेस कार्यकारिणी की हुई थी बैठक 
क्या कांग्रेस सत्ता-संगठन में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. ये सवाल पिछले दिनों हुए छत्तीसगढ़ कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद से उठने लगे हैं. दरअसल, बैठक के भीतर सीएम भूपेश बघेल की मौजूदगी में ये मसला उठा था. प्रदेश के सियासी गलियारे में ऐसी चर्चा इसलिए भी है? कि पिछले सोमवार से ही कार्यकर्ताओं की फरियाद सुनने के लिए प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में फिर से मंत्रियों का बैठना शुरू हो चुका है. इसे भी सत्ता-संगठन में तालमेल की कवायद से जोड़ कर देखा जा रहा है. वहीं इस मसले को लेकर सीएम भूपेश बघेल का कहना है कि समन्वय लगातार चलने वाली प्रक्रिया है. प्रदेश कांग्रेस के लिए ये जवाबदारी पीएल पुनिया को मिली है और वो इसे देख रहे हैं. ऐसे में अब स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का पीएल पुनिया से मुलाकात करने जाना कई सियासी संकेत दे रहा है. 

बता दें कि छत्तीसगढ़ सरकार में बीते काफी समय से उठा-पटक का दौर चल रहा है. ऐसी चर्चाएं हैं कि ढाई-ढाई साल सीएम पद को लेकर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. हालांकि दोनों ही नेता ढाई-ढाई साल के फार्मूले की बात से इंकार कर चुके हैं. बीते दिनों भी भूपेश बघेल और टीएस सिंहदेव ने दिल्ली पहुंचकर पार्टी हाईकमान से बात की थी. 

ये भी पढ़ेंः सीएम बघेल ने किया छत्तीसगढ़ के राजकीय गमछे का लोकार्पण, बनेगा प्रदेश की पहचान, अतिथियों को किया जाएगा भेंट

WATCH LIVE TV

Trending news