छत्तीसगढ़ में विधानसभा सत्र को लेकर सियासत, विपक्ष की मांग पर CM बघेल का जवाब

  छत्तीसगढ़ में 4 दिन के विधानसभा सत्र पर बीजेपी ने आपत्ति उठाई है. बीजेपी ने कम से कम 10 दिन का सत्र बुलाए जाने की मांग कर रही है. नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि केवल कोरम पूर्ति के लिए ये सत्र बुलाया गया है, कई सारे ऐसे मामले हैं जिन्हें विधानसभा में लाना और उजागर करना जरूरी.

छत्तीसगढ़ में विधानसभा सत्र को लेकर सियासत, विपक्ष की मांग पर CM बघेल का जवाब
फाइल फोटो

रायपुर :  छत्तीसगढ़ में 4 दिन के विधानसभा सत्र पर बीजेपी ने आपत्ति उठाई है. बीजेपी ने कम से कम 10 दिन का सत्र बुलाए जाने की मांग कर रही है. नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि केवल कोरम पूर्ति के लिए ये सत्र बुलाया गया है, कई सारे ऐसे मामले हैं जिन्हें विधानसभा में लाना और उजागर करना जरूरी. वहीं बीजेपी की इस मांग पर खुद सीएम भूपेश बघेल ने जवाब दिया है. 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि  बीजेपी के समय में 4-5 दिन से ज्यादा का सत्र नहीं होता था, नेता प्रतिपक्ष तो खुद विधानसभा अध्यक्ष रह चुके हैं. सीएम ने कहा कि  कोरोना काल में भी हम बैठक रख रहे हैं ,4-5 दिन की चर्चा करा रहे हैं यह कोई कम नहीं हैं. 

ये भी पढ़ें : CM बघेल ने केंद्रीय कोयला मंत्री से की मुलाकात, मिल गई इस बड़ी मांग पर मंजूरी

विधानसभा सत्र के साथ-साथ नई शिक्षा नीति को लेकर सीएम भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में नई नीति समझ से परे है, विदेश में स्नातक की शिक्षा में दिक्कतें आएगी. केंद्र को तमाम बातों को स्पष्ट करना चाहिए. 

watch live tv: