close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीएम संग कमिश्नर-कलेक्टर-सीईओ कॉन्फ़्रेंस

राजधानी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ कमिश्नर-कलेक्टर और सीईओ की कॉन्फ्रेंस हुई। इसमें मध्य प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों ने शिरकत की। बैठक में सीएम शिवराज सिंह ने सरकार की प्रमुख योजनाओं पर अधिकारियों से रिपोर्ट ली। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुपोषण से निपटने के लिए अभियान तेज़ करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि श्योपुर, सतना, विदिशा के साथ-साथ सभी ज़िलों में कुपोषण के खिलाफ़ अभियान तेज़ किया जाए।

सीएम संग कमिश्नर-कलेक्टर-सीईओ कॉन्फ़्रेंस

भोपाल: राजधानी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ कमिश्नर-कलेक्टर और सीईओ की कॉन्फ्रेंस हुई। इसमें मध्य प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों ने शिरकत की। बैठक में सीएम शिवराज सिंह ने सरकार की प्रमुख योजनाओं पर अधिकारियों से रिपोर्ट ली। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुपोषण से निपटने के लिए अभियान तेज़ करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि श्योपुर, सतना, विदिशा के साथ-साथ सभी ज़िलों में कुपोषण के खिलाफ़ अभियान तेज़ किया जाए।

सीएम ने कहा कि महिला बाल विकास विभाग और स्वास्थ्य विभाग के अलावा कलेक्टर ख़ुद इस अभियान की लगातार मॉनिटरिंग करें। मीटिंग में सीएम ने इंदौर के कलेक्टर पी नरहरि की जमकर तारीफ़ की और दूसरे कलेक्टर्स को उनसे सीखने की सलाह दी। मुख्यमंत्री ने आवास निर्माण में बेहतर काम के लिए राजगढ, खंडवा, इंदौर, धार और बुरहानपुर के अधिकारियों को बधाई दी। वहीं स्वच्छता मिशन में बेहतर काम के लिए हरदा, सीधी, रीवा, नरसिंहपुर और आगर के अधिकारियों की तारीफ़ की।

सबसे ख़राब प्रदर्शन सतना, अशोकनगर और विदिशा का रहा। वहीं हेल्पलाइन पर आने वाली शिकायतों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शिकायतों का निरीक्षण और जवाबदेही तय हो। उन्होंने कलेक्टरों को निर्देश दिया कि काम नहीं करने वालों पर कार्रवाई करें।

इंवेस्टर्स समिट के सफल आयोजन के तुरंत बाद बुलाई गई इस मीटिंग को बेहद अहम माना जा रहा है। बीजेपी की तीसरी बार सरकार बनने के बाद ये पहला मौका है जब कलेक्टर-कमिश्नर कांफ्रेंस बुलाई गई।