close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डायमंड सिटी पन्ना में लगी हीरों की प्रदर्शनी, नामी-गिरामी कंपनियों ने लिया भाग

पन्ना के हीरा एक्सपर्ट और हीरा अधिकारी इन कंपनियों प्रतिनिधियों को हीरा एवं हीरा माइनिंग के विषय में अवगत कराएंगे.

डायमंड सिटी पन्ना में लगी हीरों की प्रदर्शनी, नामी-गिरामी कंपनियों ने लिया भाग
पन्ना में लगभग 60 हजार करोड़ के साथ बड़े प्रोजेक्ट निवेश का प्लान तैयार किया जा रहा है.

पीयूष कुमार शुक्ला/पन्ना: दुनियाभर में अपने हीरों के लिए प्रसिद्ध डायमंड शहर पन्ना में हीरों की प्रदर्शनी का आयोजन किया गया. इस प्रदर्शनी के माध्यम से देश की बड़ी-बड़ी कंपनियों को आमंत्रित किया गया. दो दिवसीय प्रदर्शनी को पन्ना के महेन्द्र भवन में रखा गया है. इसमें पन्ना सहित छतरपुर जिले के बकस्वाहा से बंदर प्रोजेक्ट के जरिये निकाले गए लगभग 27 हजार कैरेट के हीरों को रखा गया है. बंदर प्रोजेक्ट के जरिये ऑस्ट्रेलिया की कंपनी रियो टिंटो ने इन हीरों को निकालकर पन्ना के डायमंड कार्यालय में जमा किया था. ये सभी हीरे मंगलवार को इस प्रदर्शनी में रखे गए हैं. 

बंदर प्रोजेक्ट के अलावा पन्ना की उथली हीरा खदानों से निकले जेम क्वालिटी के हीरे भी प्रदर्शनी में रखे गए हैं. इनकी क्वालिटी व क्वांटिटी की परख करने के लिए आज देश की नामी-गिरामी कंपनियां आई है. इनमें अडानी कोल एंड माइनिंग, वेदांता, एनएमडीसी, फुरा दी डिस्कवर, अरविंदो रियल्टी इंफ्रास्ट्रक्चर, एस्सल माइनिंग इंडिया लिमिटेड आदि कंपनियां भाग ले रही हैं. जो इस प्रदर्शनी में रखे हीरों की परख कर उनकी क्वालिटी व क्वांटिटी को देखेंगे. इसके बाद इन्वेस्टमेंट करने पर विचार करेंगे. 

पन्ना के हीरा एक्सपर्ट और हीरा अधिकारी इन कंपनियों जो प्रतिनिधि आये हैं, उनको हीरा एवं हीरा माइनिंग के विषय में अवगत कराएंगे. पन्ना कलेक्टर ने बताया कि इस प्रदर्शनी के माध्यम से पन्ना में बड़े प्रोजेक्ट डलवाने का प्रयास किया जा रहा है और यह पन्ना के विकास के लिए मील का पत्थर साबित हो सकता है. पन्ना में लगभग 60 हजार करोड़ के साथ बड़े प्रोजेक्ट निवेश का प्लान तैयार किया जा रहा है.