दिग्विजय सिंह का आरोप, कांग्रेस के पक्ष वाले मतदान केंद्रों पर खराब हो रही हैं EVM

मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों के लिए बुधवार को मतदान हो रहा है. मतदान के शुरुआती एक घंटे में लगभग छह फीसदी मतदान हुआ.

दिग्विजय सिंह का आरोप, कांग्रेस के पक्ष वाले मतदान केंद्रों पर खराब हो रही हैं EVM
मध्यप्रदेश की 230 सीटों के लिए सुबह 8 बजे से मतदान जारी है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में मतदान केंद्रों पर वोटिंग मशीनों की खराबी को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सवाल खड़े कर दिए हैं. कांग्रेस नेता ने कहा है कि पार्टी के पोलिंग एजेंट्स को इस पर ध्यान देना चाहिए.

दिग्विजय ने अपने ट्वीट में कहा, ''जो मतदान केंद्र कांग्रेस के पक्ष में हैं, वहां ईव्हीएम खराब होने के समाचार आ रहे हैं. कांग्रेस के पोलिंग एजेंट्स को इन दो बातों का ध्यान रखना चाहिए.'' पहली- ''यह कि जो मशीन खराब होती है और जो उसके स्थान पर बदली जाती है, उनके नंबर जरूर नोट कर लें.'' दूसरी बात- ''जो नई मशीन आती है उसे वोटिंग चालू करने के पहले 50-100 वोट डालकर चेक जरूर करें.''

कांग्रेस प्रत्याशियों को दी बधाई
दिग्विजय ने वोटिंग शुरू होने पर अपनी पार्टी के प्रत्याशियों को बधाई दी. उन्होंने लिखा, ''मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के सभी उम्मीदवारों को हार्दिक शुभकामनाएं. ईश्वर से यही प्रार्थना है बीजेपी के शिवराज का 'शवराज' समाप्त हो. नर्मदे हर.''

दरसअल, राज्य में वोटिंग शुरू होने के बाद ईव्हीएम मशीनों में खराबी आने की समस्या शुरू हो गई, जो कि बढ़ती ही जा रही है. इसके चलते करीब 100 मतदान केंद्रों के बाहर वोटरों की लंबी-लंबी कतारें लग गईं. ग्वालियर, शहडोल, आगर-मालवा, इंदौर, उज्जैन समेत दूसरे जिले के पोलिंग बूथों पर यह समस्या आ रही है. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भी EVM की खराबी पर सवाल खड़े करने लगे हैं.  मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव LIVE : वोटिंग मशीनों में खराबी, कमलनाथ और दिग्विजय ने उठाए सवाल

 

वहीं, चुनाव प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने चुनाव आयोग में इसको लेकर शिकायत दर्ज कराई है. सिंधिया ने कहा, ''पूरे प्रदेश से वोटिंग मशीनें खराब होने की ख़बरें आ रही हैं. हमारे लोकतंत्र में नागरिकों का मत ही उनकी आवाज़ है. इसको कुचलने की कोशिश अत्यंत चिंताजनक है. मैं चुनाव आयोग से निवेदन करता हूं कि तत्काल संज्ञान लेकर सुनिश्चित करे कि बगैर रुकावट और गड़बड़ी के निष्पक्ष मतदान सम्पन्न हो. MP Election 2018: भिंड में पुलिस ने कसा शिकंजा, दबंग उम्मीदवारों को किया नजरबंद

100 वोटिंग मशीनें खराब
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बी.एल कांताराव ने माना कि प्रदेश के 100 मतदान केंद्रों से ईवीएम मशीनों के खराब होने की शिकायत आई है. इन मशीनों को आधा घंटे के भीतर बदल दिया गया.  कांताराव ने बताया, "तीन मतदान केंद्रों पसरवाड़ा, लांजी और बैहर में सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ और शेष 227 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ. पहले घंटे में 6.32 फीसदी वोट डाले गए."

230 विधानसभाओं के आंकड़े
आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, राज्य में 5,04,33079 मतदाता राज्य के 65,367 मतदान केंद्रों पर ईव्हीएम और वीवीपैट से मतदान करेंगे. इस दौरान पुरुष मतदाताओं की संख्या 2,63,1300 महिला मतदाताओं की संख्या 2,41,30,390 और थर्ड जेंडर मतदाताओं की संख्या 1,389 है. चुनाव मैदान में 2,899 उम्मीदवार हैं, जिनमें पुरुष प्रत्याशी 2,644, महिला प्रत्याशी 250 और अन्य प्रत्याशी पांच हैं.