मूक-बधिर युवती ने पिता और पति पर लगाए यौन उत्पीड़न के आरोप, किया आत्महत्या का प्रयास

राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में मूक-बधिर नवविवाहिता ने शुक्रवार (16 मार्च) को वीडियो कॉल के दौरान गले में फंदा डाल कर फांसी लगाने की धमकी दी.

मूक-बधिर युवती ने पिता और पति पर लगाए यौन उत्पीड़न के आरोप, किया आत्महत्या का प्रयास
इंदौर की एक सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ की सक्रियता के चलते उसे सुरक्षित बचा लिया गया. (प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर: राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में मूक-बधिर नवविवाहिता ने शुक्रवार (16 मार्च) को वीडियो कॉल के दौरान गले में फंदा डाल कर फांसी लगाने की धमकी दी. लेकिन इंदौर की एक सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ की सक्रियता के चलते उसे सुरक्षित बचा लिया गया. सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ मोनिका पुरोहित ने बताया कि राजस्थान के हनुमानगढ़ की 26 वर्षीय महिला उन्हें पिछले तीन दिन से वीडियो कॉल कर इशारों में बता रही थी कि शादी के बाद वह बेहद तनाव में है और अपनी जान दे देगी.

ये भी पढ़ें : सुरक्षा के लिए खतरा हैं रोहिंग्या, उन्हें वापस भेजा जाए : RSS

युवती ने परिजनों पर भी लगाए आरोप
उन्होंने कहा कि जब शुक्रवार को इस महिला ने हमें वीडियो कॉल किया, तो उसने छत के पंखे से पहले ही कपड़े का फंदा बांध रखा था. इसे गले में डालकर वह बार-बार इशारा कर रही थी कि उससे अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है और वह खुदकुशी करने जा रही है. मोनिका ने बताया कि उनके सहयोगियों ने फौरन हनुमानगढ़ पुलिस को मामले की सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मूक-बधिर महिला की जान बचा ली. सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ मोनिका का कहना है कि युवती ने अपने परिजनों पर भी गलत करने के आरोप लगाए हैं. सांकेतिक भाषा में उसने कई आरोप लगाए हैं. इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए.

ये भी पढ़ें : #ZeeIndiaConclave : यूपी में बीजेपी का हमेशा के लिए उदय हुआः अमित शाह

पुलिस ने समय रहते पहुंच बचाई जान
हनुमानगढ़ के महिला थाने में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) गायत्री चौधरी ने बताया कि मूक-बधिर महिला ने खुद को एक कमरे में बंद कर रखा था. हमने दरवाजे के नीचे से एक पर्ची कमरे में डाली, जिस पर लिखा था कि पुलिस उसकी सुरक्षा के लिये आई है. यह पर्ची पढ़ते ही उसने दरवाजा खोल दिया. एएसआई ने बताया कि मूक-बधिर महिला हनुमानगढ़ के सतीपुरा क्षेत्र में रहने वाली है. उसकी कुछ दिन पहले ही शादी हुई है. सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ मोनिका पुरोहित ने वीडियो कॉल पर मूक-बधिर महिला के हाव-भाव देखने के बाद संदेह जताया है कि वह यौन प्रताड़ना की शिकार है.

ये भी पढ़ें : फिर से बैलेट पेपर के जरिए चुनाव होने चाहिए : कांग्रेस

पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि विवाहिता युवती की इसी महीने की दस मार्च को ही सतीपुरा के एक मूक-बधिर युवक के साथ शादी हुई थी. पुलिस का कहना है कि पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है. परिजनों के साथ ही ससुराल पक्ष के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है. वहीं  

इनपुट भाषा से