close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बुजुर्ग महिला को मृत बताकर पेंशन और राशन देना किया बंद, अब काट रही है सरकारी दफ्तरों के चक्कर

जब गांव के लोगों ने उनकी परेशानी देख पेंशन रुकने का कारण जाना तो पता चला कि पंचायत सचिव ने रिकॉर्ड में इस महिला को मृत घोषित करते हुए उनकी पेंशन और राशन बंद करा दी है.

बुजुर्ग महिला को मृत बताकर पेंशन और राशन देना किया बंद, अब काट रही है सरकारी दफ्तरों के चक्कर

सतनाः मध्य प्रदेश के सतना जिले के उचेहरा जनपद के अंतर्गत ग्राम पंचायत करहीकला में इन दिनों एक वृद्ध विधवा महिला अपने आपको जिंदा साबित करने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर लगा रही है. सरकारी रिकॉर्ड में इन्हें मृत घोषित कर दिया गया है. इस बात का पता महिला को उस वक्त लगा जब उनकी पेंशन बैंक में आना बंद हो गई और राशन की दुकान में राशन मिलना बंद हो गया.

करहीकला गांव में रहने वाली 62 वर्षीय वृद्ध महिला को पहले तो बैंककर्मी भी कहते रहे कि पेंशन रुकी हुई है आ जाएगी, लेकिन जब गांव के लोगों ने उनकी परेशानी देख पेंशन रुकने का कारण जाना तो पता चला कि पंचायत सचिव ने रिकॉर्ड में इस महिला को मृत घोषित करते हुए उनकी पेंशन और राशन बंद करा दी है. जब ये बात महिला को पता चली तो उन्होंने सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाना शुरू कर दिए, लेकिन नतीजा अभी तक नहीं निकला है.

देखें LIVE TV

पीड़ित महिला का कहना है कि में जिंदा हूं और मेरे पास अब कोई चारा नहीं बचा है क्या करें. पेंशन में जो रुपए मिलते थे, उससे आटा और दाल खरीद कर अपना जीवनयापन कर लेती थे. पता नहीं अब क्या होगा. सरकारी रिकार्ड में मृत दर्ज होने के कारण पिछले कई महीने से महिला को राशन भी नहीं मिल है. 

बबली कोल गैंग का सदस्य 'लाली' गिरफ्तार, पुलिस ने 3 दिन की रिमांड पर लिया

सरकारी रिकॉर्ड में मृत होने की वजह से उसका राशन कार्ड निरस्त कर दिया गया है. अब हर रोज सरकारी अफसरों के दफ्तर जाकर उन्हें अपनी परेशानी सुना रही है. उसने अधिकारीयों को भी अपने जीवित होने की जानकारी दी. साथ ही अपने राशन कार्ड के नवीनीकरण के लिए आवेदन अधिकारी को दिया, लेकिन महीनों बीत जाने के बाद भी इस गरीब महिला को कोई मदद नहीं मिल पाई है.