नकली इंजेक्शन, दवाईयों के बाद अब नकली कोरोना वैक्सीन का खुलासा! आरोपी सतना से गिरफ्तार

पुलिस अब इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इस गिरोह ने अभी तक कितने लोगों को नकली वैक्सीन लगाई है. 

नकली इंजेक्शन, दवाईयों के बाद अब नकली कोरोना वैक्सीन का खुलासा! आरोपी सतना से गिरफ्तार
फाइल फोटो.

सतनाः देशभर में कोरोना वैक्सीन लगवाने को लेकर जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है. इस बीच एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. दरअसल मुंबई की एक हाउसिंग सोसाइटी में रहने वाले 390 लोगों को नकली कोरोना वैक्सीन लगा दी गई. जैसे ही मामले का खुलासा हुआ, आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दी गई. फिलहाल एक आरोपी को पुलिस ने सतना से गिरफ्तार किया है. पुलिस अब इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इस गिरोह ने अभी तक कितने लोगों को नकली वैक्सीन लगाई है. 

क्या है मामला
दरअसल बीती 30 मई को मुंबई की हीरानंदानी हाउसिंग सोसाइटी में वैक्सीन कैंप का आयोजन किया गया. इस कैंप में वैक्सीन लगाने वाले लोगों ने बताया कि वह नानावती हॉस्पिटल की तरफ से आए हैं. जिसके बाद यकीन करते हुए इस कैंप में सोसाइटी के कुल 390 लोगों ने वैक्सीन लगवाई. इस दौरान नकली वैक्सीन लगाने वालों ने सोसाइटी के लोगों से वैक्सीनेशन के नाम पर 5 लाख रुपए की ठगी भी की. जब लोगों ने वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट मांगा तो दो दिन बाद देने की बात कहकर नकली वैक्सीन लगाने वाला गिरोह वहां से फरार हो गया. 

ऐसे हुआ खुलासा
सोसाइटी के लोगों को जब 2 दिन बाद भी वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट नहीं मिला तो लोगों ने नानावती हॉस्पिटल फोन कर इस बारे में जानकारी मांगी. जिस पर अस्पताल द्वारा ऐसे किसी वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन करने से इंकार कर दिया. जिसके बाद लोगों को इस ठगी का पता चला और उन्होंने कांदिवली थाने में इसकी सूचना दी. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने तुरंत इस मामले की जांच शुरू कर दी. पुलिस ने इस मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. उनका एक साथी मोहम्मद करीम फरार था. जिसकी पुलिस द्वारा तलाश की जा रही थी. 

इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी मोहम्मद करीम ट्रेन से मुंबई से बिहार भागने की फिराक में है. इस पर मुंबई पुलिस ने सतना जीआरपी को आरोपी के बारे में सूचना दी. जिसके बाद सतना जीआरपी ने रेलवे स्टेशन से आरोपी मोहम्मद करीम को हिरासत में ले लिया. आरोपी को सतना जीआरपी ने मुंबई पुलिस को सौंप दिया है, जिसके बाद अब इस मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है. पुलिस इस बात का पता करने में भी जुटी है कि आरोपियों ने हीरानंदानी हाउसिंग सोसाइटी के अलावा और किन-किन जगह लोगों को नकली वैक्सीन लगाई हैं?