MP: होटल के कमरे से मिली व्यापारी की लाश, परिजनों ने GRP और IT विभाग पर लगाए गंभीर आरोप

उत्तरप्रदेश के हाथरस के हींग कारोबारी गौरव बंसल को इंदौर रेलवे स्टेशन पर जीआरपी ने 19 लाख रुपए के साथ पकड़ा था.

MP: होटल के कमरे से मिली व्यापारी की लाश, परिजनों ने GRP और IT विभाग पर लगाए गंभीर आरोप

उज्जैन: रविवार शाम उज्जैन देवास गेट थाना क्षेत्र में रेलवे स्टेशन के सामने होटल प्रीति के एक कमरे मिली एक हींग कारोबारी की लाश. बताया जा रहा है कि उत्तरप्रदेश के हाथरस के हींग कारोबारी गौरव बंसल 40 वर्ष शुक्रवार को इंदौर में व्यापारिक काम से आया था जिसे जीआरपी जवानों ने इंदौर रेलवे स्टेशन पर 19 लाख रुपए के साथ पकड़ा था जिसके बाद उसे आयकर विभाग को सौंप दिया गया.

बता दें अधिकारियों ने उससे पूछताछ के बाद शनिवार को दोपहर 12 बजे पेश होने को कहा था. इसके बाद वह इंदौर में छोटी ग्वालटोली की होटल में ठहरा था जहां से वह शनिवार सुबह गायब और होटल के कमरे में खून व सामान फैला था इसके बाद परिवार उसकी तलाश करते हुए उज्जैन आया जहां पुलिस की मदद से होटलों में तलाशी के दौरान होटल प्रीति के कमरा नंबर 320 में उसकी लाश मिली. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

दरअसल उत्तरप्रदेश के हाथरस का हींग कारोबारी गौरव बंसल शुक्रवार को इंदौर में व्यापारिक काम से आया था. वहां कारोबारियों से 19 लाख रुपए लेकर वापस दिल्ली-सराय रोहिल्ला ट्रेन से हाथरस जाने के लिए बैठा. जीआरपी जवानों को तलाशी के दौरान बंसल के पास से 19 लाख रुपए पकड़ लिया और उसे इंदौर के आयकर विभाग को सौंप दिया.

आयकर अधिकारियों ने बंसल से शुक्रवार रात 2 बजे तक पूछताछ की. शनिवार दोपहर 12 बजे उसे फिर आयकर कार्यालय पेश होना था. इसके लिए वह इंदौर में छोटी ग्वाल टोली में होटल नीलम में ठहर गया था. वहां से भी बंसल शनिवार सुबह करीब साढ़े 6 बजे गायब हो गया था. बताया जा रहा है कि होटल के कमरे में बंसल का सामान व मोबाइल पड़ा हुआ था. परिजन सूचना के बाद इंदौर पहुंचे और उसकी तलाश शुरू की.  

पुलिस सूचना के अनुसार गौरव सुबह करीब 10.30 बजे रेलवे स्टेशन के सामने स्थित होटल प्रीति के कमरा नंबर 320 में ठहरा था. इसके बाद से ही वह कमरे से नहीं निकला था जब बंसल के परिजन उसे तलाशते हुए उज्जैन आए तब उन्होने पुलिस को जानकारी दी. इस पर पुलिस ने देवासगेट व रेलवे स्टेशन के सामने की होटलों में तलाश की तो पता चला की वह होटल प्रीति में वह ठहरा था.

पुलिस ने कमरा खुलवाने के लिए दरवाजा खटखटाया तो नहीं खुला जिसके बाद खिड़की का दरवाजा खोलकर अंदर देखा गया तो बिस्तर पर बंसल की लाश थी साथ ही खून के भी निशान थे. पुलिस द्वारा आशंका जताई जा रही है कि कारोबारी ने खुदकुशी की है जिसपर परिजनों ने पोस्टमार्टम रूम के बाहर इंदौर इनकम टैक्स और जीआरपी पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है.