छत्तीसगढ़: किसानों पर बरपा कुदरत का कहर, बारिश और ओलावृष्टि से 95 फीसदी फसल बर्बाद
X

छत्तीसगढ़: किसानों पर बरपा कुदरत का कहर, बारिश और ओलावृष्टि से 95 फीसदी फसल बर्बाद

बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की मुश्किलें बढ़ा रखी है. फसल की बर्बादी से किसानों के सामने आर्थिक संकट गहराता जा रहा है. छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में किसानों ने सरकार को अपनी पीड़ा बताई है.

छत्तीसगढ़: किसानों पर बरपा कुदरत का कहर, बारिश और ओलावृष्टि से 95 फीसदी फसल बर्बाद

जन्‍मजय सि‍न्‍हा/महासमुंद: बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की मुश्किलें बढ़ा रखी है. फसल की बर्बादी से किसानों के सामने आर्थिक संकट गहराता जा रहा है. छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में किसानों ने सरकार को अपनी पीड़ा बताई है. साथ ही मुआवजे की भी मांग की है.

दरअसल सिरपुर क्षेत्र के ग्राम रायकेरा में ओलावृष्टि से किसानों की रबी फसल को काफी नुकसान पंहुचा है. 27 किसानों की 70 से 80 एकड़ की फसल को बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने 95 प्रतिशत तक बर्बाद कर दिया है. इसीलिए अन्नदाता अब सरकार से मदद की उम्मीद लगाए बैठे हैं.

किसान इदु खान का कहना है कि फसल की बर्बादी के बाद अब हमारे सामने भरण पोषण का संकट आ गया है. साथ ही कर्ज चुकाने के लिए भी पैसे नहीं है, हमने खेती के लिए ही कर्ज लिया था. लेकिन पैसे की तंगी से हम कर्ज चुकाने में असमर्थ हैं.

ये भी पढ़ें: CG: क्वॉरंटीन के दौरान घर से भागा युवक, कटघोरा से था कनेक्शन, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

वहीं जिला पंचायत के उपाध्यक्ष लक्ष्मण पटेल ने भी किसानों की हालत को लेकर चिंता जताई है. उन्होंने कलेक्टर से लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तक इन किसानों की समस्या को पहुंचाया है. साथ ही उम्मीद लगाई  है कि इन्हें उचित मुआवजा दिया जाएगा.

WATCH LIVE TV: 

Trending news