close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Madhya Pradesh: चाय बनी मौत का समान, बेटे की गलती से गई पिता की जान

चाय बनाते समय बेटे ने चायपत्ती की जगह चायपत्ती की तरह दिखने वाला कोई पदार्थ चाय में डाल दिया. इस चाय को दोनों पिता पुत्र ने पी लिया जिसके बाद उन्हें उल्टियां शुरू हो गई. 

Madhya Pradesh: चाय बनी मौत का समान, बेटे की गलती से गई पिता की जान
(फोटो फाइल)

नई दिल्ली: बैतूल के मुलताई इलाके में जहरीली चाय पीने से एक वृद्ध किसान की मौत हो गयी है जबकि उसका बेटा अस्पताल में मौत से जिंदगी की लड़ाई लड़ रहा है. पिता-पुत्र को शुक्रवार की देर रात गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था, जहां पर पिता ने रास्ते मे दम तोड़ दिया जबकि बेटे का जिला अस्पताल में इलाज किया जा रहा है. बेटे की भी हालत यहां बेहद गंभीर बताई जा रही है. घटना मुलताई थाना इलाके के हथनापुर गांव की है. 

पीड़ित परिवार के मुताबिक हथनापुर निवासी 80 वर्षीय नत्थू बुआडे ने गुरुवार की शाम करीब 7 बजे अपने बेटे डोमा को चाय बनाने को कहा. चाय बनाते समय बेटे ने चायपत्ती की जगह चायपत्ती की तरह दिखने वाला कोई पदार्थ चाय में डाल दिया. इस चाय को दोनों पिता पुत्र ने पी लिया जिसके बाद उन्हें उल्टियां शुरू हो गई. उल्टियां बढ़ने के बाद परिजन उन्हें लेकर मुलताई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुचे जहां से उन्हें जिला अस्पताल भेज दिया. इस दौरान रास्ते मे पिता नत्थू ने दम तोड़ दिया जबकि डोमा की हालत गंभीर बनी हुई है. 

MP: संदिग्ध परिस्थितियों में इलाज के दौरान कैदी की मौत, परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप

father and son drink poision tea

डॉक्टरों के मुताबिक खाया गया जहर बेहद खतरनाक है. यह सल्फास भी हो सकता है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. मृतक के रिश्तेदार का कहना है कि घर पर नाना नत्थू और मामा डोमा थे. नाना ने चाय बनाने को कहा और मामा ने चाय बनाई थी. उसमें चायपत्ती जैसी जहरीली चीज डाल दी. डॉक्टरों का कहना है कि नत्थू ब्रैन डैड आया था और डोमा की हालत गंभीर है. उसे बचाने की कोशिश कर रहे हैं.