छत्तीसगढ़ के पूर्व विधायक का कोरोना से निधन, सांस लेने में दिक्कत के बाद कराया गया था भर्ती

ओम प्रकाश पूर्व रमन सिंह सरकार में संसदीय सचिव थे. वह धरमजयगढ़ से वो दो बार विधायक रह चुके थे. 

छत्तीसगढ़ के पूर्व विधायक का कोरोना से निधन, सांस लेने में दिक्कत के बाद कराया गया था भर्ती

रायगढ़: कोरोना महामारी के नए स्ट्रेन ने तहलका पूरी दुनिया में मचाया हुआ है. छत्तीसगढ़ में भी रोज कोरोना के 1 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. यहां से गुरुवार को कोरोना की वजह से धरमजयगढ़ के पूर्व विधायक ओम प्रकाश राठिया का निधन हो गया है. पूर्व विधायक को कुछ दिन पहले सांस लेने में तकलीफ होने के कारण रायगढ़ लाया गया था. हालत बिगड़ने पर उन्हें रायपुर AIIMS रैफर किया गया था. जहां इलाज शुरू होने से पहले ही उनकी मौत हो गई . 

CBSE बोर्ड परीक्षाओं का ऐलान, इस तारीख से शुरू होंगे एग्जाम

मुख्यमंत्री ने शोक व्यक्त किया
पूर्व विधायक के निधन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के शोक जताते हुए कहा कि धरमजयगढ़ के पूर्व विधायक श्री ओमप्रकाश राठिया जी के निधन का समाचार दुखद है. मैं ईश्वर से परिवारजनों को दुःख की इस घड़ी में शक्ति प्रदान करने और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं.

प्रदेश में कई राजनेता कोरोना के शिकार
प्रदेश के कई राजनीतिक दिग्गज कोरोना की चपेट में आ चुके है. पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल समेत उनका पूरा परिवार कोरोना संक्रमित पाया गया था. वहीं PCC चीफ मोहन मरकाम के परिवार के 5 सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इसके बाद नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक कोरोना पॉजिटिव हो चुकी है.

इधर युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष निकाल रहे थे मशाल जुलूस, उधर पूर्व अध्यक्ष घर में घुसकर कर रहे थे मारपीट

 

ओम प्रकाश राठिया का राजनीतिक सफर
ओम प्रकाश पूर्व रमन सिंह सरकार में संसदीय सचिव थे. वह धरमजयगढ़ से वो दो बार विधायक रह चुके थे. उन्होंने 2003 में कांग्रेस के दिग्गज नेता चनेश राम राठिया को हराकर राजनीति की शुरुआत की थी. राठिया इस क्षेत्र के कद्दावर भाजपा नेता के रूप में उभरे थे.