जहरीली शराब से मौत पर सियासत; CM शिवराज के बाद कमलनाथ ने बनाई अलग जांच टीम, जाएगी उज्जैन

मध्य प्रदेश के उज्जैन में जहरीली शराब से दो लोगों की मौत के सनसनी फैल गई थी. अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें 10 को आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. 

जहरीली शराब से मौत पर सियासत; CM शिवराज के बाद कमलनाथ ने बनाई अलग जांच टीम, जाएगी उज्जैन
file photo

भोपालः मध्य प्रदेश के उज्जैन में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत के बाद सनसनी फैल गई है. मामले में अब राजनीति के दिग्गजों ने कदम रखना शुरू कर दिया है. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मामले की निंदा करते हुए अलग से जांट टीम का गठन किया है. कमलनाथ ने आरोप लगाया कि कानून व्यवस्था छिन्न-भिन्न हो चुकी है. इसके साथ ही कमलनाथ ने पीड़ित परिवार से जाकर मुलाकात की. 

विधायक सहित नेताओं की बनाई जांच टीम
कमलनाथ ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उपचुनाव वाले जिलों में पिछले 90 दिनों में सात हजार से ज्यादा शिकायतें सीएम हेल्पलाइन में दर्ज की गई है. उज्जैन की घटना के लिए जांच टीम गठित करते हुए उन्होंने विधायक महेश परमार, मनोज चावला, दिलीप गुर्जर सहित मुरली मोरवाल को टीम में शामिल किया है. ये टीम प्रदेश कांग्रेस को अलग से जांच रिपोर्ट भेजेगी. 

ये भी पढ़ेंः- उज्जैनः जहरीली शराब से 11 लोगों की मौत के बाद 10 की गिरफ्तारी, थाना इंचार्ज सस्पेंड

कमलनाथ बोलें सरकार बदलते ही माफिया बेखौफ
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार जाते ही प्रदेश में शराब माफिया बेखौफ होकर सक्रीयता से काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पूरी सरकार उपचुनाव की तैयारियों में लगी है, शिवराज जी ने तो जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है. साथ ही महिला सुरक्षा पर बोले कि प्रतिदिन बहन-बेटियों के साथ दरिंदगी की घटनाएं बढ़ रही है, लेकिन सरकार चुप होकर बैठी है. 

ये भी पढ़ेंः- 'हाथरस की भाभी' का समाज को संदेश, 'ये समय विरोध का है, सहने का नहीं'

कमलनाथ बोलें कि सरकार कुंभकरण बन के सोई हुई है, लेकिन कांग्रेस ऐसा नहीं करेगी. कांग्रेस माफियाओं व मिलावट खोरों से प्रदेश को मुक्त कराने का अभियान बंद नहीं करेगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए सड़कों पर भी संघर्ष करेंगी. बता दे कि उज्जैन शहर में जहरीली शराब से मौत के कारण 11 लोगों की मौत हो गई है. जिसमें अब तक 10 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. जिनमें सिकंदर, गबरू और यूनुस नामक आरोपी छतरी चौक स्थित नगर निगम की मल्टी लेवल पार्किंग में अवैध रूप से जिंजर पोटली बनाकर मजदूरों को बेचते थे. पुलिस मामले में सख्त रूप अपनाए हुए है. 

WATCH LIVE TV