BJP के सदस्यता अभियान पर भड़के पूर्व मंत्री घनघोरिया, कहा- 75-80% कार्यकर्ताओं के DNA में कांग्रेस

मध्य प्रदेश में 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले ग्वालियर-चंबल अंचल में बीजेपी ने तीन दिवसीय सदस्यता अभियान की शुरुआत की है. शनिवार को पांच हजार से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने हाथ का साथ छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया. जिसे लेकर कांग्रेस भड़क उठी है.

BJP के सदस्यता अभियान पर भड़के पूर्व मंत्री घनघोरिया, कहा- 75-80% कार्यकर्ताओं के DNA में कांग्रेस
फाइल फोटो

जबलपुर : मध्य प्रदेश में 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले ग्वालियर-चंबल अंचल में बीजेपी ने तीन दिवसीय सदस्यता अभियान की शुरुआत की है. शनिवार को पांच हजार से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने हाथ का साथ छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया. जिसे लेकर कांग्रेस भड़क उठी है. प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि कांग्रेस के 75 से 80% कार्यकर्ता ऐसे हैं जिनके डीएनए में आज भी कांग्रेस है.

उपचुनाव से पहले बीजेपी के सदस्यता अभियान पर निशाना साधते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि 75 से 80 फीसदी कार्यकर्ताओं के मन में केवल कांग्रेस बसी है, उनके डीएनए में आज भी कांग्रेस है.ऐसे कार्यकर्ता कभी भी पार्टी को नहीं छोड़ेंगे. हमें अपने नेताओं पर पूरा भरोसा है. 

ये भी पढ़ें :   कमलनाथ परदेशी, ग्वालियर विकास के लिए हम पैसों की कमी नहीं आने देंगे-सीएम शिवराज
  
वहीं ग्वालियर-चंबल अंचल में बीजेपी के कद्दावर नेताओं की मौजूदगी से पहले हुई कांग्रेस कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारियों पर भी घनघोरिया ने सत्तारूढ़ पार्टी पर निशाना साधा है. उनका कहना है कि बीजेपी हमेशा प्रशासन को आगे करके राजनीति करती आ रही है, लेकिन कांग्रेस का कार्यकर्ता डरेगा नहीं यह वही पार्टी है जो अंग्रेजों से नहीं डरी. 

आपको बता दें कि सिंधिया और शिवराज के ग्वालियर दौरे के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए थे. इसे लेकर पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने सरकार को घेरा था. उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के लोगों को सरकार जेल में बंद कर रही है. अस्थाई सरकार से कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं डरेंगे.

गौरतलब है कि भाजपा सदस्यता ग्रहण समारोह के पहले चरण में 5 हज़ार 243 कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की. नवागत कार्यकर्ताओं की सूची ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को सौंपी. इस मौके पर ऊर्जा मंत्री ने कहा कि जब मैं पूर्व सीएम से दो करोड़ रुपये स्वास्थ्य विभाग की मशीन खरीदने के लिए मांगे तो नहीं दिए लेकिन छिंदवाड़ा को कई करोड़ दिए. जब जनता की आवाज नहीं सुनी गई तो हमने कुर्सी छोड़ दी. 

WATCH LIVE TV: