close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'काला धन सेना को दे दें'

क्या काले धन को जलाने या उसे फेंकने की बजाय उसे सेना और बीमारों को दे देना चाहिए, जानिए किसने कही ये बात?

'काला धन सेना को दे दें'

देवास: देश भर में 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बंद होने के बाद से काला धन रखने वालों में हड़कंप मचा हुआ है।

देश भर से कई जगहों से ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं जहां काले धन को फेंका गया है या जलाया गया है।

ऐसे में कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और पूर्व सांसद सज्जन सिंह वर्मा ने काला धन रखने वालों को कहा है कि वो नोटों को पानी में फेंकने, ज़मीन में गाढ़ने या जलाने की बजाय नोटों को देश की सेना और अस्पतालों के रोगियों के लिए दे दें।

ताकि ये नोट देश के काम आ सकें। साथ ही उन्होंने अचानक बंद किये गए नोटों को सरकार का तुगलकी आदेश बताते हुए कहा कि इससे पूरा देश ठप्प हो गया है, रोजमर्रा के काम प्रभावित हो रहे हैं और तो और शादियां, मौत वाले परिवार बेहद परेशान हैं।

इतना ही नहीं सज्जन वर्मा ने कहा कि वो अर्थशास्त्री नहीं हैं हो सकता है कि इसके प्रभाव लंबे समय बाद देखने को मिलें, लेकिन ये एक अपरिपक्व निर्णय है।

ATM बंद पड़े हैं, जहाँ चालू है वहाँ रुपया नहीं है। बैंकों के बाहर लंबी-लंबी कतारें लगी हैं। 

सुविधाएं जुटाने के बाद यह निर्णय लिया जाता तो ठीक होता।