पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाकर कर्नाटक में हार का बदला ले रही सरकारः कमलनाथ

देशभर में पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि जारी है. सोमवार को राजधानी भोपाल में भी पेट्रोल-डीजल की कीमत में भारी वृद्धि देखी गई.

पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाकर कर्नाटक में हार का बदला ले रही सरकारः कमलनाथ
कमलनाथ (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः देशभर में पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि जारी है. सोमवार को राजधानी भोपाल में भी पेट्रोल-डीजल की कीमत में भारी वृद्धि देखी गई. राजधानी में पेट्रोल और डीजल के दामों में अब तक में सबसे ज्यादा वृद्धि देखी गई. भोपाल में सोमवार को सादा पेट्रोल 82.17 रुपये, पावर पेट्रोल 85.94 रुपये और डीजल 71.38 रुपये प्रति लीटर बिका. पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हो रही वृद्धि से अब सियासत भी तेज हो गई है. प्रदेश भर में पेट्रोल की कीमतों में हो रही वृद्धि को लेकर कांग्रेस के मध्यप्रदेश इकाई के नवनिर्वाचित अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए मध्यप्रदेश सरकार और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है और कहा है कि सरकार जिस तरह से पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा रही है लगता है वह कर्नाटक में हार का बदला ले रही है. बता दें कि पिछले कुछ दिनों में पेट्रोल और डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि हुई है. जिसके बाद से विपक्ष लगातार सरकार पर निशाना साध रही है.

क्या कहा कमलनाथ ने
पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो रही वृद्धि को लेकर किए ट्वीट में कमलनाथ ने कहा कि "पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हो रही है. लगता है पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि करके सरकार कर्नाटक में हार का बदला ले रही है. सप्ताह में एक दिन साइकिल चलाने की घोषणा करने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी की साइकिल कहां गई? पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाए. शिवराज सरकार जनता को राहत पहुंचाने के लिए राज्य की और से सहमति दे." दरअसल, मध्यप्रदेश में पेट्रोल के दाम अब तक के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गई है. राजधानी में पेट्रोल में 4.55 रुपये और डीजल में 4 रुपये तक मंहगा हुआ है.

जारी रहेगी पेट्रोल-डीजल के दामों में हो रही वृद्धि
बता दें कि अभी पेट्रोल और डीजल के दामों में हो रही वृद्धि के थमने के आसार नहीं हैं. विदेशी बाजार में क्रूड ऑयल की कीमतों में हो रही वृद्धि से पेट्रोल-डीजल के दामों में भी और वृद्धि होने के आसार हैं. डीजल और पेट्रोल की कीमतों में अभी 6 से 8 रुपये तक वृद्धि हो सकती है. बता दें कि घरेलू बाजार अंतराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल की कीमत के आधार पर रोजाना पेट्रोल और डीजल की कीमतों की समीक्षा करता है, लेकिन कर्नाटक में चल रहे चुनावों को देखते हुए कुछ दिनों के लिए इस समीक्षा को रोक कर रखा गया था. मई 14 के बाद वापस से पेट्रोल-डीजल के दामों की सीक्षा शुरू की गई. जिससे पिछले सात दिनों में अचानक से पेट्रोल-डीजल के दाम बढ गए.