close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश में बरसा गर्मी और लू का प्रकोप, खरगोन में 47.4 डिग्री पहुंचा पारा

भोपाल का न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 22.5 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 25 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

मध्य प्रदेश में बरसा गर्मी और लू का प्रकोप, खरगोन में 47.4 डिग्री पहुंचा पारा
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

भोपालः मध्य प्रदेश के तापमान में आ रहे उछाल और लू के बढ़ते असर ने जनजीवन को प्रभावित किया है. राज्य में मंगलवार की सुबह से झुलसा देने वाली गर्मी है. तेज धूप के साथ चल रही हवाएं परेशान कर रही हैं. राज्य के अधिकतम तापमान में बढ़ोत्तरी हुई है जो अधिकांश हिस्सों में 43 डिग्री के आसपास बना हुआ है. गर्मी और लू ने जनजीवन को प्रभावित किया है और यही कारण है कि दोपहर के वक्त बाजारों में सन्नाटा छाने लगा है. 

राज्य में बीते 24 घंटों में खरगोन सबसे गर्म रहा, जहां तापमान 47.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. मौसम विभाग के अनुसार, आगामी 24 घंटों में मौसम में बदलाव के आसार कम है एवं गर्मी और लू का असर बना रहेगा. राज्य में गर्मी का प्रभाव बढ़ा है. मंगलवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 22.5 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 25 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

लातूर: गांवों में हो रही लोगों को समस्या, शहर जाने की पाइप से पानी करते हैं जमा

वहीं, सोमवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 43.7 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 43 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 43.8 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 44.2 डिग्री सेल्सियस रहा. अगर पिछले हफ्ते की बात करें तो खरगोन में पारा 46.6 डिग्री सेल्सियस था, जो इस अब बढ़कर 47.4 डिग्री हो गया है. वहीं होशंगाबाद में 45 डिग्री, भोपाल में 45.4 डिग्री तापमान दर्ज किया गया था.

देश के इस हिस्से में आसमान उगल रहा 'आग', सड़क पर चलते वक्त लग रही तंदूर जैसी तपिश

बता दें गर्मी के चलते डॉक्टर्स भी लोगों को घर से बाहर निकलने से पहले पूरी तरह से तैयारी करके निकलने की सलाह दे रहे हैं. डॉक्टर्स का कहना है कि बाहर निकलने से पहले लोग मुंह पर कपड़ा बांधकर निकलें और साथ ही ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं, ताकि डिहाईड्रेशन की समस्या से बचा जा सके. (इनपुटः आईएएनएस)