गृहमंत्री अमित शाह ने बनाया 'नक्सल समस्या' खत्म करने का प्लान, कांग्रेस ने उठाए सवाल

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी का कहना है कि बीजेपी के शासन में नक्सल समस्या बढ़ी है.

गृहमंत्री अमित शाह ने बनाया 'नक्सल समस्या' खत्म करने का प्लान, कांग्रेस ने उठाए सवाल
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सीआरपीएफ के साथ बैठक कर इसके 6 महीने में खात्मे का प्लान तैयार किया है.

रायपुर: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नक्सल समस्या को लेकर केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के साथ बैठक की. अमित शाह ने दिल्ली में शुक्रवार को सीआरपीएफ मुख्यालय में सीआरपीएफ के सभी ऑपरेशन की जानकारी ली. नक्सल समस्या को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सीआरपीएफ के साथ बैठक कर इसके 6 महीने में खात्मे का प्लान तैयार किया है. इसे लेकर छत्तीसगढ़ में बीजेपी जहां उत्साहित नजर आ रही है और इसे नक्सलियों के खात्मे को लेकर एक बेहतरीन कदम मान रही है. वहीं, कांग्रेस ने गृहमंत्री के 6 महीने वाले प्लान को लेकर सवाल खड़े किए हैं. 

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी का कहना है कि 15 साल से छत्तीसगढ़ में बीजेपी सत्ता संभाल रही थी. इस दौरान नक्सलियों का वर्चस्व कम होने के बजाय बढ़ा है. उन्होंने कहा कि पिछले 6 साल से केंद्र में बीजेपी का शासन है. ऐसे में 6 महीने के भीतर नक्सलियों के खात्मे का कौन सा प्लान तैयार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को लगता है कि यह मामला सामाजिक और अर्थव्यवस्था की समस्या के तहत हैं. जिसका समाधान फोर्स भेजकर लड़ाई करना नहीं, बल्कि समझकर निकालना होगा.

वहीं, बीजेपी प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव का कहना है कि ये बहुत स्वागत योग्य कदम है कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह नक्सलवाद के गंभीर समस्या को जल्द से जल्द खत्म करने की योजना पर काम कर रहे हैं. छत्तीसगढ़ में इसकी बहुत ज्यादा जरूरत है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद की वजह से बहुत नुकसान हुआ है. इस कदम से इस समस्या से निजात पाने में सफलता हासिल होगी. मुझे लगता है कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार को साझा ऑपरेशन के तहत इस समस्या से निपटना चाहिए. इसमें किसी प्रकार की राजनीति नहीं होनी चाहिए.