close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: कार एक्‍सीडेंट में राष्‍ट्रीय स्‍तर के 4 हॉकी प्‍लेयर्स की मौत, प्रतियोगिता को किया गया रद्द

होशंगाबाद में एक भीषण कार दुर्घटना में राष्‍ट्रीय स्‍तर के चार हॉकी के खिलाड़ियों की मौत हो गई. तीन अन्‍य घायल हो गए.

MP: कार एक्‍सीडेंट में राष्‍ट्रीय स्‍तर के 4 हॉकी प्‍लेयर्स की मौत, प्रतियोगिता को किया गया रद्द
होशंगाबाद में कार एक्‍सीडेंट में 4 हॉकी प्‍लेयर्स की मौत हो गई.

होशंगाबादः होशंगाबाद में सोमवार की सुबह एक बड़ा हादसा हो गया, जहां एक एक तेज रफ्तार कार बेकाबू होकर पेड़ से जा टकराई. हादसे में घटनास्थल पर ही चार राष्ट्रीय स्तर के हॉकी प्लेयर्स की मौत हो गई, जबकि 3 अन्य खिलाड़ी हादसे में बुरी तरह से घायल हो गए. ये सभी खिलाड़ी ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट में खेलने आए थे और होशंगाबाद से इटारसी जा रहे थे. इसी दौरान यह हादसा हो गया.

मिली जानकारी के मुताबिक जिस वक्त यह हादसा हुआ कार में कुल 7 हॉकी प्लेयर्स सवार थे. पेड़ से टकराने के बाद कार अनियंत्रित होकर पलट गई और सड़क से नीचे जा गिरी. हादसा इतना भीषण था कि चार खिलाड़ियों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन अन्य को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हादसे में मृत खिलाड़ियों के नाम शाहनवाज खान, आदर्श हरदुआ, आशीष लाल और अनिकेत है. वहीं हादसे के बाद होशंगाबाद में होने जा रही हॉकी प्रतियोगिता को भी रद्द कर दिया गया है.

देखें LIVE TV

हादसे की सूचना मिलने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी शोक संवेदानाएं व्यक्त करते हुए ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा कि 'होशंगाबाद में हॉकी टूर्नामेंट में शामिल होने जा रहे हॉकी खिलाड़ियों के वाहन की रैसलपुर गाँव के पास दुर्घटना होने की खबर बेहद दुखद. दुर्घटना में मृत खिलाड़ियों के परिवारों के प्रति मेरी शोक संवेदनाए.'

MP: परेशान युवक ने थाने के सामने जहर खाकर की आत्महत्या की कोशिश, पीड़ित को छोड़ भागी पुलिस

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि, 'रैसलपुर, होशंगाबाद में ध्यानचंद्र ट्राफी में खेलने जा रहे हॉकी खिलाड़ी शाहनवाज खान, आदर्श हरदुआ, आशीष लाल और अनिकेत की सड़क दुर्घटना में मौत का दुःखद समाचार मिला. ईश्वर से प्रार्थना है कि वे दिवंगत आत्माओं को शांति, परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति दें व घायलों को शीघ्र स्वस्थ करें.'