Twitter से पार्टी का नाम और पद हटाने पर सिंधिया की सफाई, बोले- 'लोगों की सलाह पर किया ये काम'

किसी अन्य पार्टी में जाने को लेकर अफवाहों पर सफाई देते हुए सिंधिया ने कहा कि सभी अफवाहें निराधार हैं और वह किसी भी अन्य पार्टी में नहीं जा रहे हैं.

Twitter से पार्टी का नाम और पद हटाने पर सिंधिया की सफाई, बोले- 'लोगों की सलाह पर किया ये काम'
ज्योतिरादित्य सिंधिया (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः ट्विटर अकाउंट पर पार्टी का नाम हटाने और स्टेटस बदलने पर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का कहना है कि उन्होंने लोगों के कहने पर अपने ट्विटर अकाउंट से पार्टी का नाम और पद हटाया है . उन्होंने कहा कि जनता की मांग पर उन्होंने ट्विटर अकाउंट पर अपना बायो छोटा किया है. किसी अन्य पार्टी में जाने को लेकर अफवाहों पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि सभी अफवाहें निराधार हैं. उन्होंने सिर्फ जनता की मांग पर अपना बायो छोटा किया है.

दरअसल, हाल ही में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने अपने ट्विटर अकाउंट से पार्टी का नाम और पद हटा दिया है, जिससे सियासी गलियारों में उनके अन्य पार्टी ज्वॉइन करने की अटकलों ने जोर पकड़ लिया है. वहीं इन दिनों जनता की आवाज बने सिंधिया लगातार मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार के प्रति नाराजगी जाहिर कर रहे हैं, जिससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि सिंधिया जल्द ही अन्य पार्टी के साथ नजर आ सकते हैं. 

सिंधिया ने ट्विटर से हटाया पार्टी का नाम, महाराष्ट्र के बाद MP की राजनीति में सुगबुगाहट शुरू

आपको बता दें कि सिंधिया ने अपने ट्विटर अकाउंट से पार्टी का नाम हटाते हुए खुद को समाजसेवक और क्रिकेटप्रेमी बताया है. वहीं सिंधिया के ट्विटर अकाउंट से पार्टी का नाम हटाते ही मध्य प्रदेश की राजनीतिक गलियारों में अब सुगबुगाहट शुरू हो गई है और उनके जल्द ही भाजपा ज्वॉइन करने की अटकलें भी तेज हो गई हैं.

ये वीडियो भी देखें: