अवैध खनन कर रहे रेत माफियाओं ने जिला पंचायत सदस्य को बंधक बनाकर पीटा, तमाशबीन बनी रही पुलिस

धमतरी के राजपुर डाभा में चल रहे रेत खनन की जानकारी ग्रामीणों ने जिला पंचायत को दी. जिसपर जिला पंचायत सदस्य खूबलाल ध्रुव और उनके साथी राजपुर डाभा रेत खदान पहुंचे.जहां रेत माफिया और उनके  60 से 70 गुर्गो ने खूबलाल ध्रुव और उनके साथियों को बंधक बनाकर करीब 3 घंटों तक लाठी-डंडे और रॉड से प्राणघातक हमला किया.

अवैध खनन कर रहे रेत माफियाओं ने जिला पंचायत सदस्य को बंधक बनाकर पीटा, तमाशबीन बनी रही पुलिस
सांकेतिक तस्वीर

धमतरी: रेत खदानों के बंद के आदेश के बावजूद धमतरी में रेत खनन धड़ल्ले से चल रहा है. धमतरी के राजपुर डाभा में चल रहे रेत खनन की जानकारी ग्रामीणों ने जिला पंचायत को दी. जिसपर जिला पंचायत सदस्य खूबलाल ध्रुव और उनके साथी राजपुर डाभा रेत खदान पहुंचे.

जहां रेत माफिया और उनके  60 से 70 गुर्गो ने खूबलाल ध्रुव और उनके साथियों को बंधक बनाकर करीब 3 घंटों तक लाठी-डंडे और रॉड से प्राणघातक हमला किया. इस हमले में जिला पंचायत सदस्य और उनके कुछ साथी गंभीर रूप से घायल हो गए.

जिला पंचायत सदस्य खूबलाल ध्रुव का कहना है कि जब उन्होंने इस बात का विरोध किया तो रेत माफियाओं ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी. उनका आरोप है कि मौके पर कुरूद पुलिस की टीम तो पहुंची, लेकिन तमाशबीन बनी रही.

ये भी पढ़ें-बिलासपुर में बने एक क्वारंटाइन सेंटर पर तैनात SPO से मारपीट, मामला हुआ दर्ज

खूबलाल ध्रुव ने बताया कि रेत खदान में नागू चंन्द्राकर और बाहरी लोगों का जमवाड़ा था. जिन्होंने उन्हे बंधक बनाया और उनके साथ मारपीट की. खूबलाल ध्रुव का आरोप है कि उनके कपड़े उतारकर अश्लील वीडियो भी बनाया गया है.

बता दें कि इस मामले में बीजेपी और आदिवासी समाज ने भी आक्रोश जताया है. भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामू रोहरा ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठाया है. साथ ही इसकी जानकारी पार्टी हाईकमान को देने की बात कही है. वहीं इस मामले में आदिवासी समाज ने उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है. बहरहाल पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्जकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है..

आदिवासी समाज के जिलाध्यक्ष बहुरसिंग मरकाम ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है.वहीं कार्रवाई न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है.

Watch LIVE TV-