ग्वालियर: ऑड-ईवन फार्मूले पर चलेंगे ऑटो-टैक्सी, बस संचालकों मिल सकती है RTO टैक्स में रियायत

ग्वालियर शहर में यात्रियों को आवाजाही में हो रही परेशानी को देखते हुए परिवहन विभाग अब ऑड-ईवन फार्मूले पर ऑटो और टेंपो शुरू करने पर विचार कर रहा है.

ग्वालियर: ऑड-ईवन फार्मूले पर चलेंगे ऑटो-टैक्सी, बस संचालकों मिल सकती है RTO टैक्स में रियायत
ग्वालियर रेलवे स्टेशन.

ग्वालियर: पूरे देश भर में कोरोना महामारी के बीच जारी लॉकडाउन के चलते पब्लिक ट्रांसपोर्ट पूरी तरह से ठप्प पड़ा है. लेकिन सरकार ने लॉक डाउन 5.0 में राज्य के अंदर यात्री बसों और शहर में चलने बाले ऑटो और टैक्सी संचालकों को कुछ राहत देने की बात कही है.

ग्वालियर शहर में यात्रियों को आवाजाही में हो रही परेशानी को देखते हुए परिवहन विभाग अब ऑड-ईवन फार्मूले पर ऑटो और टेंपो शुरू करने पर विचार कर रहा है. ग्वालियर आरटीओ एमपी सिंह का कहना है कि कोरोना संक्रमण के चलते कम ही लोग घर से बाहर निकल रहे हैं, ऐसे में ऑड-ईवन फॉर्मूले पर ही वाहन चलाए जाएंगे.

MP: पूरे 71 दिन बाद पटरी पर दौड़ी ट्रेन, स्टेशनों पर किए गए ये इंतेजाम

इससे सभी को समान रूप से रोजगार मिल सकेगा और अनावश्यक ट्रैफिक जाम भी नहीं होगा. वहीं दूसरी ओर राज्य के अंदर बसों के संचालन की भी शुरुआत की जानी है. ग्वालियर शहर से लगभग 650 यात्री बसें रोजाना आती जाती हैं. लेकिन जिस तरीके से सरकार ने 50% सवारियां लेकर चलने की शर्त रखी है इसको लेकर बस संचालक कहीं न कहीं असमंजस में हैं.

क्योंकि उनका मानना है कि इतनी कम सवारियां लेकर चलने पर उनका खर्चा भी नहीं निकल पाएगा. इसके लिए भी आरटीओ विभाग कोई बीच का रास्ता निकालने पर विचार कर रहा है. संभवत इस दौरान बस संचालकों को आरटीओ टैक्स में छूट दी जा सकती है.

WATCH LIVE TV