MP: इंदौर में माकपा नेता ने ​खुद को लगाई आग, CAA और NRC के विरोध में थे शामिल

इंदौर में माकपा नेता रमेशचंद्र प्रजापति ने केरोसिन डालकर खुद को आग लगा ली. वह सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों में भी शामिल थे.

MP: इंदौर में माकपा नेता ने ​खुद को लगाई आग, CAA और NRC के विरोध में थे शामिल
सांकेतिक तस्वीर.

इंदौर: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और प्रस्तावित राष्ट्रीय नगारिक रजिस्टर (NRC) का विरोध कर रहे 75 वर्षीय मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता रमेशचंद्र प्रजापति ने शुक्रवार शाम गीता भवन चौराहे पर केरोसिन डाल खुद को आग लगा ली.

उन्हें एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. डॉक्टरों ने बताया कि रमेश प्रजापति 90 प्रतिशत जल चुके हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. रमेशचंद्र प्रजापति के पास से थैले में एक कागज भी मिला, जिसमें सीएए और एनआरसी के विरोध में लिखा हुआ था.

उनकी जेब से सीएए और एनआरसी के विरोध में पर्चे भी मिले. तुकोगंज थाना इंचार्ज निर्मल श्रीवास ने बताया कि रमेश प्रजापति शुक्रवार शाम गीता भवन चौराहा स्थित एक ऑटोमोबाइल्स शोरूम के पास पहुंचे और खुद पर केरोसिन उड़ेलकर आग लगा ली.

स्थानीय लोगों ने इसकी जानकारी तुकोगंज थाने में दी. पुलिस ने स्थानीय लोगों की सहायता से रमेशचंद्र प्रजापति को अस्पताल पहुंचाया. मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव छोटेलाल सरावद और कैलाश लिंबोदिया ने बताया कि रमेशचंद्र प्रजापति रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी थे. 

वह सीएए और एनआरसी के विरोध में माणिकबाग और बड़वाली चौकी में प्रदर्शन कर रहे थे. इन दोनों ने कहा कि हो सकता है सीएए और एनआरसी के विरोध में रमेशचंद्र ने यह कदम उठाया हो.

पुलिस का इस मामले में कहना है कि रमेशचंद्र प्रजापित का बयान नहीं दर्ज हाे सका है, इसलिए बताया नहीं जा सकता कि उन्होंने ये कदम क्यों उठाया.